कानपुर में मनाया गया स्वच्छता-राखी का पर्व

डीएन संवाददाता

कानपुर में रक्षाबंधन के मौके एक अनूठी पहल की गई, जहां स्वच्छता अभियान के तहत स्वच्छता राखी का पर्व मनाया गया।

स्वच्छता अभियान के तहत स्वच्छता राखी का पर्व मनाते ग्रामीण
स्वच्छता अभियान के तहत स्वच्छता राखी का पर्व मनाते ग्रामीण

कानपुर: स्वच्छता अभियान के तहत खुले में शौच मुक्त के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। स्वच्छता अभियान की इसी मुहिम में हर क्षेत्र में जिला प्रशासन खुले में शौच मुक्त करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में शौचालयों का निर्माण तीव्र गति से करवाने के लिए लगातार प्रयासरत है। सोमवार को रक्षाबंधन के मौके पर जिला प्रशासन ने स्वच्छता अभियान के तहत कल्याणपुर के टिकरा और घाटमपुर पतारा ब्लॉक में 'स्वच्छता राखी' का पर्व मनाया। इसमें सभी ग्रामीणों ने बढ़-चढ़ कर इस पर्व में हिस्सा लिया।

यह भी पढ़ें: रक्षाबंधन पर अखिलेश यादव ने दी शुभकामनाएं, बंधवाई राखी

इस दौरान ग्रामीण क्षेत्रों की बहनों ने अपने भाइयों और ग्राम प्रधान को स्वच्छता राखी उनकी कलाइयों पर बांधी। वहीं स्वच्छता राखी के माध्यम से खुले में शौच को मुक्त करने के लिए जल्द से जल्द सभी लोगों से इस अभियान के लिए जागरूक होने की अपील भी की।

भाइयों को राखी बांधती बहनें

यह भी पढ़ें: छात्राओं ने आईटीबीपी जवानों की कलाईयों पर बांधी राखियां

बहनों ने बांधी स्वच्छता राखी

घाटमपुर स्थित पतारा ब्लॉक में जमकर स्वच्छता राखी का त्योहार मनाया गया। शासन के निर्देशानुसार 2017 के अंत तक ग्रामीणों क्षेत्रों को खुले में शौच मुक्त करना है। जिनमें 30 जनपदों के अलावा कानपुर भी चिन्हित है, जिसके लिए लगातार जिला प्रशासन शौचालयों के निर्माण व उसके प्रयोग के लिए तीव्र गति से कार्य करा रहा है। जिसे लेकर सोमवार को रक्षाबंधन के मौके पर स्वच्छता भारत मिशन ग्रामीण अभियान से जोड़ते हुए नई पहल की शुरुआत की है। जिसमें रक्षाबन्धन के पर्व को स्वच्छता दिवस के रूप में भी मनाया जा रहा है। इस दौरान बहनों ने अपने-अपने भाइयों और ग्राम प्रधानों की कलाई में स्वच्छता राखी बांधकर अपने सम्मान के लिए खुले में शौच की मुक्ति का आग्रह किया। इस दौरान भाइयों और प्रधानों ने राखी बांध रही बहनों की रक्षा और शौचालय निर्माण का वचन देकर उनका सम्मान किया। प्रत्येक ग्राम पंचायत में स्वच्छता दिवस को लेकर कार्यक्रम आयोजित किये गए।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार