लखनऊ: इश्क और अवैध संबंधों में बाधा बन रही पत्नी और बच्चों पर दरोगा ने किया जानलेवा हमला

डीएन संवाददाता

गैर महिला के इश्क में अंधे यूपी पुलिस के एक दरोगा ने अपनी पत्नी और बच्चों पर जानलेवा हमला किया, जिसके बाद पत्नी को गंभीर स्थिति में इलाज के लिये अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनका कसूर सिर्फ इतना था कि वह दरोगा के अवैध संबंधों में बाधा बन रहे थे। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट


लखनऊ: कानपुर नगर में तैनात एक दरोगा ने अपनी पत्नी और बच्चों को अवैध संबंधों में बाधक बनने के चलते पहले घर से निकल जाने की चेतावनी दी। मगर जब इससे भी बात नहीं बनी तो दरोगा ने लखनऊ पुलिस लाइन में रह रही पत्नी और बच्चों को अपने भाइयों के साथ मिलकर जमकर पीटा। जिससे पत्नी की हालत गंभीर हो गई और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दरोगा की मारपीट से बुरी तरह घायल उसकी पत्नी अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रही है।

कानपुर नगर में तैनात आरोपी दरोगा शिव स्वरूप तिवारी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है लेकिन लखनऊ पुलिस द्वारा अभी तक इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं की गयी है।
जानकारी के मुताबिक आरोपी दरोगा ने अवैध संम्बधों के आड़े आ रहे अपने परिवार को अपने 3 भाईयों के साथ मिलकर लखनअऊ रिज़र्व पुलिस लाइन में रह रहे परिवार पर हमला बोला। इससे पहले दरोगा शिव स्वरूप तिवारी ने अपनी पत्नी शशि तिवारी और 2 बेटों को घर से निकल जाने और जान से मारने की धमकी भी दी थी।

आरोपी दरोगा रामस्वरूप तिवारी के बेटे सक्षम तिवारी का कहना है कि उनके पिता राम स्वरूप तिवारी ने मंगलावार को अपने 3 भाइयों के साथ मिलकर उसकी मां और उन पर हमला किया। सक्षम तिवारी ने बताया कि जब उसकी मां को उसके पिता के अफेयर के बारे में पता चला तो उन लोगों ने कई जगह इसकी शिकायत की थी, जिससे नाराज होकर दरोगा ने मां और दोनों बेटों को घर छोड़कर चले जाने के लिए कहा। मगर जब वह नहीं माने तब उसके पिता ने अपने 3 भाइयों के साथ मिलकर उसकी मां को और उन्हें जमकर पीटा। जिससे उसकी मां को गंभीर हालत में ट्रामा सेंटर में भर्ती कराना पड़ा।

अब देखने वाली बात यह होगी कि लखनऊ के महिला थाने में मुकदमा दर्ज होने के बाद और पत्नी की जमकर पिटाई करने और गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती होने के बाद लखनऊ पुलिस आरोपी दरोगा के खिलाफ क्या कार्रवाई करती है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

#DNPoll क्या आपको लगता है जनता के असली मुद्दों को लेकर मोदी और राहुल के बीच आमने-सामने की डिबेट होनी चाहिये?