महराजगंज जिले में त्रिमुहानी पुल के पास सड़क से दो फीट ऊपर पानी बहने से मची अफरा-तफरी

डीएन संवाददाता

वही अनहोनी हुई जिसकी आशंका डाइनामाइट न्यूज़ ने पहले ही जता दी थी। बाढ़ के कारण महराजगंज में बड़ी मुसीबत सामने आ गयी है।

त्रिमुहानी नदी का बांध टूटने के बाद का मंजर
त्रिमुहानी नदी का बांध टूटने के बाद का मंजर

महराजगंज: महराजगंज में बाढ़ से भयावह स्थिति पैदा हो गई है। महराजगंज-फरेन्दा मार्ग के बीचो-बीच स्थित त्रिमुहानी नदी का बांध लगभग 15 मीटर तक टूट गया है। त्रिमुहानी पुल के पास सड़क से दो फीट ऊपर पानी लगभग 500 मीटर तक बह रहा है। बाढ़ का पानी आईटीएम इंजीनियरिंग कालेज और उसके आसपास के इलाके को डूबोने के बाद सड़क क्रास करके चेहरी गांव की तरफ काफी तेजी से पानी घुसने लगा है।

यह भी पढ़ें: महराजगंज के डीएम डाइनामाइट न्यूज़ पर LIVE: बाढ़ के कारण 5 दिन के लिए जिले के सभी स्कूल-कालेज बंद

 

राष्ट्रीय राजमार्ग 730 पूरी तरह से खतरे में आ गया है। पहले सड़क के एक तरफ आईटीएम का इलाका पानी से लबालब भरा था। डाइनामाइट न्यूज़ संवाददाता के मुताबिक सड़क काटकर पानी दूसरी साइड चेहरी गांव में काफी तेजी से घुसने लगा है। इससे चेहरी गांव के 20 मजरों के बाढ़ में डूबने का खतरा पैदा गया है। समूचे हालात को देख ग्रामीणों में अफरा-तफरी मच गयी है और भयभीत ग्रामीण गांव छोड़कर भाग रहे हैं। 

यह भी पढ़ें- संकट में महराजगंज, बाढ़ से सैकड़ों लोग बेघर,कई क्षेत्र जलमग्न

गाड़ियों का आवागमन फरेन्दा- महराजगंज मार्ग पर पूरी तरह बंद हो गया है।

यह भी पढ़ें-महराजगंज: सांसद पंकज चौधरी पहुंचे बाढ़ग्रस्त इलाकों में, किया डोमरा-जर्दी बंधे का निरीक्षण

पूरे इलाके की स्थिति काफी भयावह बनी हुई है।  

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार