एटा: राष्ट्रीय पर्व के दिन हुई शर्मनाक घटना, दलित किशोरी पर डाला गया तेजाब

डीएन संवाददाता

एक ओर जहां देश गणतंत्र दिवस के जश्न में डूबा हुआ है, तो वहीं एटा से बेहद दुखी करने वाली खबर आ रही है। एक किशोरी पर किसी नीच मानसिकता वाले ने तेजाब फेंका है। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


एटा: देश को स्वतंत्र गणराज्य घोषित किए 70 साल हो चुके हैं। कहने को संविधान में देश की बच्चियों और औरतों को ढेर सारे अधिकार प्राप्त हैं। ये अधिकार उन्हें सुरक्षा प्रदान करने के लिए दिए गएं हैं, लेकिन इतने अधिकार पाने के बावजूद भी ना तो उन्हें समाज में पुरुषों के समान दर्जा मिल सका है और ना ही सुरक्षा। एक भी दिन ऐसा नहीं होता जब महिलाओं या बच्चियों के साथ दरिंदगी की खबर ना आए। 

यह भी पढ़ें: एटा: प्रेम प्रसंग में असफल छात्र ने खुद को गोली मार आत्महत्या की, क्षेत्र में मचा कोहराम
एटा से आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर ऐसी ही एक शर्मसार करने वाली खबर आई है। यहां किसी नीच मानसिकता वाले  ने एक 17 वर्षीय दलित किशोरी पर तेजाब डालकर उसे घायल कर दिया है। हालत बेहद गंभीर है। ये भी आशंका जताई जा रही है कि तेजाब डालने से पूर्व किशोरी के साथ दुष्कर्म करने की भी कोशिश की गई।

तीन युवकों ने किया था अपहरण
आपको बता दें कि यह मामला मिरहची थाना क्षेत्र का है। डाइनामाइट न्यूज़ संवाददाता से बात करते हुए एएसपी संजय कुमार सिंह ने बताया कि किशोरी तीन दिन पूर्व अवागढ़ से गायब हुई थी। तीन युवकों द्वारा उसका अपहरण किया गया था। आज सड़क किनारे वह गंभीर अवस्था में मिली। उस पर तेजाब डाला गया था। मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे जिला अस्पताल भर्ती कराया जहां गंभीर अवस्था के चलते उसे आगरा रेफर कर दिया गया। एएसपी का कहना है कि पुलिस मामले कि जांच में जुट गई है। पुलिस को परिजनों की तहरीर का इंतजार है।  
      


 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार