कोरोना के नाम पर अस्पतालों की ब्लैकमेलिंग, पढ़ें ये खबर

डीएन ब्यूरो

देश की राजधानी दिल्ली उन चुनिंदा शहरों में शामिल हैं, जहां कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले है। ऐसे में कई अस्पतालों द्वारा कोरोना के नाम पर कई तरह के खेल खेले जा रहे है, लेकिन अब ऐसा करना आसान नहीं होगा। पढिये, पूरी खबर..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामलों वालों शहरों में शामिल है। यही वजह है कि कई अस्पतालों द्वारा आम लोगों और मरीजों के साथ इस भयभीत माहौल में ब्लैकमेलिंग जैसा काम किया जा रहा है। लेकिन इसके खिलाफ अब दिल्ली सरकार ने सख्त चेतावनी जारी कर दी है। 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि राजधानी में कोरोना के नाम पर ब्लैकमेलिंग करने वाले अस्पतालों को बख्शा नहीं जायेगी। सरकार द्वारा ऐसे अस्पतालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।

दिल्ली सरकार ने कहा कि कोरोना के चलते इस समेय बहुत से बिना लक्षण वाले और हल्के लक्षण वाले मरीज भी अस्पताल में एडमिट किए गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और दिल्ली स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी गाइडलाइन के मुताबिक, यह साफ है कि बिना लक्षण वाले और हल्के लक्षण वाले मरीजों को भर्ती होने की जरूरत नहीं है, उनको होम आइसोलेशन में रखने की सलाह दी गई है।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि बिना लक्षण और हल्के लक्षण वाले मरीजों को अस्पताल 24 घंटे के भीतर डिस्चार्ज करें। उन्होंने सभी अस्पतालों को निर्देशों का सख्ती के साथ विधिवत पालन करने को कहा। उन्होंने चेतावनी दी कि जो अस्पताल निर्देशों का पालन नहीं करेंगे, उनके खिलाफ मामले को गंभीरता से लेते हुए सख्त कार्रवाई की जाएगी। 
 








संबंधित समाचार