विधायक अमनमणि त्रिपाठी के गिरफ्तारी की पूरी खबर, एसपी बिजनौर का बयान डाइनामाइट न्यूज़ पर

डीएन संवाददाता

यूपी और उत्तराखंड की सबसे बड़ी खबर इस समय डाइनामाइट न्यूज़ पर आ रही है। विधायक अमनमणि त्रिपाठी को सीएम योगी की नाराजगी के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है। पूरी खबर..


बिजनौर: यूपी और उत्तराखंड की सबसे बड़ी खबर इस समय डाइनामाइट न्यूज़ पर आ रही है। विधायक अमनमणि त्रिपाठी को सीएम योगी की नाराजगी के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है।

बिजनौर के एसपी संजीव त्यागी ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि उत्तराखंड से वापस लौटते समय जैसे ही वे यूपी की सीमा में पहुंचे, नजीबाबाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। 

यह भी पढ़ें: खबर से बौखलाये पंकज चौधरी, गुर्गों को किया आगे, फर्जी मुकदमा दर्ज करा जेल में डलवाने का रचा कुचक्र

अमन के खिलाफ कल उत्तराखंड में मुकदमा दर्ज किया गया था और वहां चमोली जिले में गिरफ्तार किया गया था लेकिन फिर जमानत पर रिहा कर दिया गया था। 

फिर सोमवार को उनको सीएम योगी आदित्यनाथ की नाराजगी के बाद उन्हें दोबारा गिरफ्तार कर लिया गया। 

यह भी पढ़ें: जिला पंचायत में 13 करोड़ का घोटाला, सांसद पंकज चौधरी पर जिला पंचायत अध्यक्ष ने लगाया बड़ा आरोप

इससे पहले दोपहर में यूपी सरकार ने एक बयान जारी कर कहा था कि विधायक अमनमणि त्रिपाठी की उत्तराखंड यात्रा को मुख्यमंत्री की सहमति से जोड़कर न देखा जाय। यह भ्रामक है। उन्हें न तो मुख्यमंत्री ने अधिकृत किया था और न ही उत्तर प्रदेश सरकार ने। डाइनामाइट न्यूज़ को राज्य सरकार के सूचना विभाग की तरफ से भेजी गयी जानकारी के मुताबिक अमनमणि ने भ्रामक रुप से तथ्यों को मुख्यमंत्री के साथ जोड़कर आपत्तिजक कृत्य किया है। इस कृत्य के लिए विधायक खुद जिम्मेदार हैं।   

यह भी पढे़ं: 83 प्रतिशत लोगों का मत, लॉकडाउन में सांसद पंकज चौधरी ने नहीं निभाया अपना कर्तव्य

अमन पर आरोप है कि उन्होंने सीएम के दिवंगत पिता के क्रिया कर्म के नाम पर फर्जी तरीके से झूठी बात कह उत्तराखंड सरकार से ब्रदीनाथ और केदारनाथ में जाने के लिए पास हासिल कर लिया था। 

इन धाराओं में दर्ज हुआ है मुकदमा

बिजनौर के एसपी संजीव त्यागी ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि अमनमणि के अलावा उनके छह अन्य साथी माया शंकर सिंह, रितेश यादव, संजय सिंह, ओम प्रकाश यादव, उमेश चौबे और मनीष कुमार को गिरफ्तार किया गया है। 

उमेश चौबे महराजगंज जिले के परसामलिक थाने के बैकुंठपुर बोदरवार गांव के रहने वाले हैं जबकि अन्य सभी गोरखपुर के निवासी हैं। 

इन सबकी गिरफ्तारी नजीबाबाद के कोतवाल संजय शर्मा ने की है। अमन व इनके साथियों के खिलाफ नजीबाबाद थाने में मुकदमा अपराध संख्या 177/20 धारा 268,269,188 भादवि व धारा 03 महामारी अधिनियम 1887 व धारा 51 बी आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। 

इनकी गिरफ्तारी नजीबाबाद के समीपुर नहर पुलिया कोटद्वार रोड पर की गयी जब ये दो गाड़ियों UP 32 KS 1110 और UP 53 DL 1314 से जा रहे थे। पुलिस ने गाड़ियों को अपने कब्जे में ले लिया है। 

 

 

 













संबंधित समाचार