डाइनामाइट न्यूज़ पर बहुत बड़ी ख़बर..खलीलाबाद में सीएम योगी के क़रीबी भाजपा विधायक राकेश सिंह बघेल को भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी ने भरी मीटिंग में जूतों-जूतों पीटा

डीएन ब्यूरो

इस समय डाइनामाइट न्यूज़ पर उत्तर प्रदेश से बहुत बड़ी खबर सामने आ रही है। संतकबीर नगर में सीएम योगी के क़रीबी विधायक राकेश सिंह बघेल को भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी ने भरी सरकारी मीटिंग में जूतों-जूतों पीट डाला है। डाइनामाइट न्यूज की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


संतकबीर नगर: इस समय डाइनामाइट न्यूज़ पर उत्तर प्रदेश से बड़ी खबर सामने आ रही है। संतकबीर नगर के कलेक्ट्रेट सभागार में जिला योजना समिति की बैठक के दौरान भाजपा विधायक राकेश सिंह बघेल को भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी ने भरी मीटिंग में जूतों-जूतों पीट डाला है। 

यह भी पढ़ें: हैलो.. मैं डा. अजय पाल शर्मा की गर्लफ्रैंड बोल रही हूं!

बता दें कि यह हंगामा जिला कार्ययोजना समिति की बैठक के दौरान हुआ। बैठक के दौरान अधिकारियों के सामने ही दोनों आपस में भिड़ गये और एक दूसरे पर लात-घूसों की बरसात कर दी।

गंभीर बात तो ये है कि ये सारी मारपीट यूपी के कैबिनट मंत्री आशुतोष टंडन की मौजूदगी में हुई। 

 

यह भी पढ़ें: क्या महिला पत्रकार के चक्कर में अजय पाल शर्मा की हुई एसएसपी नोएडा के पद से छुट्टी?

दोनों के बीच आपस में जमकर गाली गलौज भी हुई। सांसद शरद त्रिपाठी शिलापट्ट में नाम न होने के कारण भड़के थे।

डाइनामाइट न्यूज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक राकेश सिंह बघेल योगी आदित्यनाथ के बहुत करीबी विधायक हैं। भाजपा में आने से पहले ये हिंदू युवा वाहिनी के प्रमुख नेताओं में से एक थे और जिले के बघौली के ब्लॉक प्रमख रह चुके हैं। वहीं शरद त्रिपाठी भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रमापति राम त्रिपाठी के बेटे हैं। इन्हें गृह मंत्री राजनाथ सिंह का सर्मथक माना जाता है। 

 

 

विधायक बघेल राजपूत समुदाय से आते हैं जबकि शरद त्रिपाठी ब्राह्मण समुदाय से। चुनाव से पहले यूपी की इन दो प्रमुख जातियों के बड़े नेताओं के बीच आपस में इस तरह की मारपीट कहीं जातिगत स्वाभिमान की शक्ल न अख्तियार कर ले, अगर ऐसा हुआ तो भाजपा के लिए लोकसभा चुनाव से पहले ये बड़ा सिरदर्द साबित होगा। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार