भाजपा के बड़े नेता रामलाल गुप्ता के भतीजी का विवाह अल्पसंख्यक युवक से हुआ.. खबर वायरल.. लोगों ने कसा तंज- कृप्या लव जिहाद से न जोड़े

डीएन संवाददाता

सोशल मीडिया पर इस समय एक खबर भयंकर तरीके से वायरल हो रखी है। आरएसएस में लंबे समय तक प्रचारक रहे और वर्तमान में अमित शाह के नेतृत्व वाली भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में नंबर दो की हैसियत रखने वाले पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) रामलाल गुप्ता की भतीजी श्रेया गुप्ता का रविवार की रात लखनऊ के एक फाइव स्टार होटल में गोरखपुर के रहने वाले अल्पसंख्यक नौजवान फैजान करीम के साथ विवाह सम्पन्न हुआ। जैसे ही यह खबर आम हुई फेसबुक से लेकर व्हाट्सअप पर लोगों ने अपने-अपने अंदाज में तंज कसना शुरु कर दिया। डाइनामाइट न्यूज़ एक्सक्लूसिव..

विवाह का तस्वीर (श्रोत: सोशल मीडिया)
विवाह का तस्वीर (श्रोत: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: सोमवार का दिन फेसबुक और व्हाट्सअप पर भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) रामलाल गुप्ता की भतीजी श्रेया गुप्ता का और गोरखपुर के रहने वाले अल्पसंख्यक नौजवान फैजान करीम के बीच कल रात लखनऊ के एक फाइव स्टार होटल में हुए हाई-प्रोफाइल विवाह के नाम रहा। 

इस विवाह समारोह में वर-वधू को आशीर्वाद देने यूपी के राज्यपाल राम नाईक से लेकर भारत सरकार के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी,  सूबे के दोनों उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा,  राष्ट्रीय नेता भूपेंद्र यादव, नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना,  उड्डयन मंत्री नन्द गोपाल नन्दी समेत तमाम दिग्गज पहुंचे।

यह भी पढ़ें: क्या महिला पत्रकार के चक्कर में अजय पाल शर्मा की हुई एसएसपी नोएडा के पद से छुट्टी?

इसमें कोई बुराई नही कि किसी भी जाति या धर्म का व्यक्ति आपसी सहमति से किसी से विवाह करे लेकिन मसला तब गंभीर हो जाता है जब दूसरों को नैतिकता का पाठ पढ़ाने वाले खुद अपनी कही बातों पर अमल नही करते। यही कारण है कि सोशल मीडिया पर लोग अपने-अपने तरीके कमेंट कर रहे हैं और तंज भरी बधाई दे रहे हैं। 

किसी ने लिखा-  ये व्यक्तिगत मामला है, कृपया लव जिहाद इत्यादि से न जोड़ें.. तो किसी ने लिखा- भाजपा के बड़े नेता के परिवार वाले अल्पसंख्यक युवक से विवाह करें तो इलिट मामला... गरीब करे तो लव जिहाद। आखिर यह दोहरा मापदंड क्यों?  
 

कुछ प्रमुख प्रतिक्रियाएं: 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

#DNPoll क्या आपको लगता है जनता के असली मुद्दों को लेकर मोदी और राहुल के बीच आमने-सामने की डिबेट होनी चाहिये?