देश की पहली महिला राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल का जन्मदिन आज, बधाईयों का तांता

DN Bureau

आज देश की पहली महिला राष्ट्रपति बनने का गौरव प्राप्त करने वाली बहुमुखी प्रतिभा की धनी श्रीमती प्रतिभा देवीसिंह पाटिल का जन्म दिन है। इस मौके पर राष्ट्रपति सहित देश की तमाम दिग्गज हस्तियों ने उन्हें बधाई दी है। खास बातें..

प्रतिभा पाटिल
प्रतिभा पाटिल

नई दिल्ली: आज देश की बारहवीं राष्ट्रपति और भारत के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर लगातार पांच साल तक काम करने वाली पहली महिला श्रीमती प्रतिभा देवीसिंह पाटिल का जन्मदिन है। देश की पहली महिला राष्ट्रपति को जन्म दिन के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सहित कई गणमान्य लोगों ने बधाई दी है। 

यह भी पढ़ें: देखिये.. जब प्रतिभा पाटिल बनीं देश की राष्ट्रपति.. तो कैसा था उनकी फैमिली का फर्स्ट रिएक्शन..

एक वकील के रूप में कैरियर की शुरूआत करने वाली प्रतिभा पाटिल बहुमुखी प्रतिभा की धनी हैं। राष्ट्रपति बनने से पहले उन्होंने राजस्थान के राज्यपाल के पद पर भी काम किया। 

स्थानीय राजनीतिज्ञ नारायण राव की पुत्री प्रतिभा पाटिल का जन्म 19 दिसंबर, 1934 को महाराष्ट्र के जलगांव जिले के बोडवाडतालुका गांव नदगांव में हुआ था। उन्होंने आरएआर विद्यालय, जलगाँव से अपनी प्राथमिक शिक्षा पूरी की और सरकारी कानून कॉलेज, मुंबई से कानून में अपनी बैचलर की डिग्री प्राप्त की। उन्होंने मूलजी जेठा कॉलेज, जलगाँव से राजनीति विज्ञान और अर्थशास्त्र मास्टर की डिग्री ली। 

यह भी पढ़ें: पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के जन्मदिन पर देखें उनकी लंदन, दक्षिण अफ्रीका और भूटान यात्रा

प्रतिभा पाटिल को एक अच्छे खिलाड़ी के रूप में भी जाना जाता है। कॉलेज के दिनों में  खेलों में उनकी खूब सक्रियता रही। पाटिल टेबल टेनिस की बहुत अच्छी खिलाड़ी भी रहीं।
प्रतिभा पाटिल को राजनीति में कदम रखने की प्रेरणा अपने पिता से मिली। 28 साल के राजनीतिक जीवन में उन्होंने शिक्षा उप मंत्री से लेकर सामाजिक कल्याण मंत्री, पर्यटन और आवास मंत्री समेत कई प्रभावशाली मंत्री के पदों का काम किया। 

यह भी पढ़ें: जन्मदिन विशेष: देश की पहली महिला राष्ट्रपति प्रतिभा देवीसिंह पाटिल के कुछ यादगार इंटरव्यू

2007 से 2012 तक रहीं राष्ट्रपति

प्रतिभा पाटिल को उनके विशेष राजनीतिक जीवन के कारण भारत के राष्ट्रपति के रूप में 25 जुलाई 2007 को नियुक्त किया गया। वे इस पद पर 24 जुलाई 2012 तक आसीन रहीं। उन्होंने अपने बेहतरीन कार्यों और प्रतिभा के बूते पर भारतीय इतिहास के गौरवशाली पन्नों में अपने नाम की अमिट छाप छोड़ी। जिसे आने वाले दिनों में याद किया जाएगा।

राजेन्द्र सिंह शेखावत

पुत्र रावसाहेब भी रहे हैं विधायक

प्रतिभा पाटिल के पुत्र राजेन्द्र सिंह शेखावत उर्फ रावसाहेब भी अपनी मां के नक्शे कदम पर चलते हुए राजनीति के क्षेत्र में सक्रिय हैं। वे महाराष्ट्र के अमरावती जिले से कांग्रेस के टिकट पर विधायक रहे हैं। जनहित के मुद्दों को लेकर वे क्षेत्र में सदैव काफी सक्रिय रहते हैं। पुत्र के अलावा श्रीमती पाटिल की एक पुत्री ज्योति राठौर हैं।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …