अमृतसर के निरंकारी डेरे में हुआ ग्रेनेड हमला.. 3 की मौत, 20 घायल

डीएन ब्यूरो

पंजाब के अमृतसर में ग्रेनेड धमाके में 3 लोगों की मौत और 20 लोग घायल हुये हैं। माना जा रहा है हमले के पीछे कट्टरपंथियों का हाथ हो सकता है। यह हमला राजासांसी क्षेत्र में हुआ है, जहां निरंकारी डेरा बनाया गया है। बाइक सवार संदिग्धों ने हमला किया है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें पूरा विवरण

अमृतसर में ग्रेनेड हमले से मची अफरा-तफरी
अमृतसर में ग्रेनेड हमले से मची अफरा-तफरी

अमृतसरः पंजाब के अमृतसर में निरंकारी डेरे पर आज अचानक से बाइक सवार संदिग्धों ने ग्रेनेड हमला कर दिया। इससे यहां हुये भीषण धमाके में तीन लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोग धमाके में घायल हो गये हैं। बताया जा रहा है डेरे पर हमला करने वाले इन बाइक सवारों की तरफ से ग्रेनेड हमले से पहले लोगों पर फायरिंग भी की गई जिसमें 10 लोग घायल हो गये हैं। सभी घायलों का अस्तपाल में इलाज चल रहा है जहां इन सबकी हालत भी गंभीर बनी हुई है।

यह भी पढ़ेंः अमृतसर रेल हादसा: फिर फूटा आक्रोश का ज्वार, पुलिस पर पत्थरबाजी, खदेड़े गये प्रदर्शनकारी  

 

 

 

हमला राजासांसी स्थित निरंकारी भवन में हुआ है। बताया जा रहा है कि हमले के समय निरंकारी डेरे में तब समागम का कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें देशभर से निरंकारी भक्त यहां भाग लेने के लिये पहुंचे थे। घटना के बाद से ही पूरू पंजाब में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। पलिस ने लोगों से किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है।    

यह भी पढ़ेंः VIDEO: देखिये, कैसे हुआ अमृतसर रेल हादसा, पल भर में भारी भीड़ को कुचलकर गुजर गई ट्रेन  

 

निरंकारी डेरे के बाहर हुआ ग्रेनेड हमला

 

यह भी पढ़ेंः UP: इन्हें जिंदगी नहीं प्यारी.. जल्दबाजी में मालगाड़ी के नीचे से गुजरकर रेलवे क्रासिंग को किया पार 

यहां हमला करने के पीछे विदेशी कट्टरपंथियों पर धमाके का शक जाहिर किया जा रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि विदेशों में बैठे कट्टरपंथियों द्वारा यहां दहशहत फैलाने की कोशिश की गई है। मामले में मौके पर पहुंचे पुलिस के आला अधिकारी फिलहाल कुछ भी कहने से बच रहे हैं। हमले में घायल हुये लोगों के राहत और बचाव का कार्य जारी है। घायलों को उपचार के लिये स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। फॉरेंसिक एक्सपर्ट मौके पर पहुंच गये हैं, विस्फोटक पदार्थ और घटनास्थल पर साक्ष्यों को जुटाकर हमले के पीछे कारण पता किया जा रहा है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …