अयोध्या-बाबरी विवाद पर अदालती फैसले को सभी स्वीकारें : रजा खान

डीएन ब्यूरो

बरेली के सज्जादा नशीन दरगाह के प्रमुख तौसीफ रजा खान ने कहा है कि अयोध्या-बाबरी मस्जिद विवाद पर उच्चतम न्यायालय का जो भी फैसला आये उसे सभी को स्वीकार करना चाहिए।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: बरेली के सज्जादा नशीन दरगाह के प्रमुख तौसीफ रजा खान ने कहा है कि अयोध्या-बाबरी मस्जिद विवाद पर उच्चतम न्यायालय का जो भी फैसला आये उसे सभी को स्वीकार करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: अयोध्या में आतंकी हमले के इनपुट पर सुरक्षा इंतजाम कड़े

रजा खान ने गुरुवार को यहां जारी बयान में कहा अयोध्या-बाबरी मस्जिद पर उच्चतम न्यायालय के 18 नवंबर से पहले सुनाये जाने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि देश की शीर्ष अदालत इस पर जो भी निर्णय उसका सभी को आदर करते हुए स्वीकार करना चाहिए।

उन्होंने अवामो खास से अपील करते हुए कहा कि अयोध्या.बाबरी मस्जिद विवाद के संबंध में उच्चतम न्यायालय का जो भी आये उसका आदर करते हुए कबूल करें जिससे मुल्क की एकता और अमन चैन को किसी प्रकार का खतरा नहीं हो। रजा खान ने कहा कि किसी भी पक्ष को स्थिति खराब करने की कोई कोशिश नहीं करनी चाहिए।

दरगाह प्रमुख ने कहा कि मुस्लिम समुदाय देश के संविधान और कानून का हमेशा से पालन करते रहे हैं और आगे भी करते रहे हैं। उनहोंने कहा,“हम मुसलमान है जिनकी पहचान अमन पसंदी है हम कोई भी ऐसा कदम नहीं उठायें जिससे हमारी पहचान पर कोई दाग लगे।”

यह भी पढ़ें: Uttar Pradesh- हाई अलर्ट पर अयोध्या, शहर में धारा 144 लागू

रजा खान ने खास तौर पर सोशल मीडिया पर इस विषय पर कुछ लिखने अथवा उसे शेयर करने में संयम और एहतियात बरते की अपील की। उन्होंने कहा अयोध्या-बाबरी मस्जिद विवाद पर फैसले को लेकर किसी भी मुस्लिम को खौफजदा होने की जरुरत नहीं है। (वार्ता) 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार