अखिलेश यादव ने एक बार फिर बीजेपी पर साधा निशाना, मायावती पर की गई टिप्पणी का दिया करारा जवाब

डीएन संवाददाता

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लखनऊ में प्रेस वार्ता कर कई मुद्दों पर बात करते हुए बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि चुनाव नजदीक आने के साथ-साथ बीजेपी के लोगों की भाषा शैली बिगड़ती जा रही है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट..


लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक प्रेस वार्ता कर कई मुद्दों पर बात करते हुए बीजेपी पर निशाना साधा। बसपा सुप्रमो मायावती को लेकर बीजेपी की विधायक साधना सिंह ने आपत्तिजनक टिप्पणी की थी जिसका जवाब अखिलेश यादव ने इस प्रेस वार्ता में दिया. अखिलेश यादव ने कहा कि चुनाव नजदीक आने के साथ-साथ बीजेपी के लोगों की भाषा शैली बिगड़ती जा रही है।

साधु संतों को मिलना चाहिए यश भारती सम्मान

इसी के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा साधु संतो को पेंशन दिए जाने की बात पर अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी सरकार साधु संतो को कम से कम 20000 रुपये महीने की पेंशन के साथ-साथ समाजवादी पेंशन और पूर्व सपा सरकार द्वारा दी जा रही यश भारती सम्मान जैसे पुरस्कार भी साधु संतों को दिया जाना चाहिए।

‘प्रवासी भारतीय दिवस’ पर दी शुभकामनाएं

अखिलेश यादव ने तीन दिवसीय ‘प्रवासी भारतीय दिवस’ के मौके पर वाराणसी में आने वाले प्रवासियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि अगर कोई प्रवासी भारतीय सपा सरकार द्वारा बनवाए गए एक्सप्रेस वे पर सफर कर लेगा तो उसे बीजेपी सरकार और सपा सरकार के कामों में फर्क साफ दिखाई दे जाएगा।

इसी के साथ अखिलेश यादव के ने कहा कि जिस दर पर कैंसर के मरीजों की संख्या बढ़ रही है यह देश और प्रदेश के लिए बड़े खतरे का संकेत है। सरकार को इस मामले में कदम उठाने चाहिए. इसी के साथ कुछ समय पहले योगी सरकार ने इन्वेस्टर्स समिट के माध्यम से निवेश आने पर निशाना साधते हुए कहा कि निवेश तब आता है जब सुरक्षा बिजली पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं की स्थिति प्रदेश में ठीक होती है। लेकिन यह सब नहीं होने से कोई भी एमआरआई यूपी में निवेश करने से पहले कई बार सोचेगा।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार