हवाई सफर कल से होगा शुरू, यात्रा से पहले पढ़ लें ये जरूरी दिशा निर्देश

डीएन ब्यूरो

कल मलतब 25 से देश में हवाई यात्रा शुरू होने जा रही है। हवाई यात्रा के लिये सरकार द्वारा कई नई गाइडलाइंस जारी कर दी गयी है। हवाई यात्रा से पहलें पढ़ ले ये जरूरी दिशा-निर्देश..

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्ली: लॉकडाउन के चलते लंबे समय से बंद पड़ी हवाई यात्रा देश में कल यानि सोमवार से शुरू होने जा रही। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने देश में फिलहाल एक तिहाई उड़ानें शुरू करने की पूरी तैयारियां कर ली हैं। पहले चरण में कुछ महानगरों और राज्यों की राजधानियों के लिए फ्लाइट शुरू करने पर विचार किया जा रहा है।

अभी तक जिन राज्यों ने उड़ान को स्वीकृति दी उनमें दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब, जम्मू-कश्मीर प्रमुख हैं। हालांकि कुछ राज्यों ने इस पर विरोध भी जताया है। सरकार का कहना है कि अहम शहर मुंबई और पुणे रेड जोन में हैं और इन शहरों में ट्रैफिक और लोगों की आवाजाही पर पूरी तरह से पाबंदी है।

अभी तक प्राप्त जानकारी के मुताबिक राजधानी दिल्ली एयरपोर्ट से सोमवार से करीब 380 उड़ानों का संचालन हो सकेगा। दिल्ली एयरपोर्ट से करीब 190 विमान रवाना होंगे और करीब 190 विमान यहां उतरेंगे। 

हवाई यात्रा शुरू करने से पहले सरकार द्वारा यात्रियों के लिये कई नई गाइडलाइंस जारी कर दी है, जिसका पालन हर यात्री को करना होगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के मुताबिक यात्रियों को फेस मास्क पहनना अनिवार्य होगा और सभी एंट्री और एक्सिट प्वाइंट पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। जिसके बाद ही यात्रियों को स्टेशन के अंदर जाने की अनुमति दी जाएगी।

मंत्रालय ने अब यात्रियों के मोबाइल फोन पर आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने को वैकल्पिक कर दिया गया है। पहले इसे अनिवार्य बताया जा रहा था। उड़ान के लिये केवल ऐसे यात्रियों को ही चढ़ने की अनुमति होगी, जिनमें कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं दिख रहे हैं। सभी संबंधित एजेंसिया यात्रियों को टिकट के साथ क्या करें और क्या न करें की सूची जारी करेंगी।   

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) ने इस संबंध में स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर्स के दिशानिर्देश जारी किये हैं, जिसमें साफ कहा गया है कि कंटेनमेंट जोन में रहने वाले लोग उड़ान नहीं भर सकेंगे। हवाईअड्डे पर पहुंचने के पहले और बाद में यात्रियों को संक्रमण रोकने के लिए सभी एहतियात बरतना अनिवार्य है। 

मंत्रालय ने कहा है कि पैंसेजर लोड, एयरपोर्ट और एयरलाइंस की तैयारियों को देखने के बाद उड़ानों की संख्‍या में वृद्धि की जा सकेगी लेकिन फिलहाल एक तिहाई उड़ानें ही शुरू होंगी।

जानकारी के मुताबिक पहले चरण में दिल्‍ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्‍नई, हैदराबाद, बेंगलुरु, अहमदाबाद सहित सभी राज्‍यों की राजधानियों के बीच विमानों का परिचालन शुरू किया जाएगा। जिन राज्‍यों में कोरोना संक्रमण की स्थिति गंभीर है, वहां बेहद सीमित संख्‍या में ही उड़ानों का परिचालन किया जाएगा।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार