देवरिया: जमींदारी बांध कटने से दर्जनों गांव खतरे में, हजारों एकड़ फसल जलमग्न

डीएन संवाददाता

गोरखपुर के बाद अब देवरिया में भी बाढ़ की स्थिति भयावह हो गई है। गोरखपुर में कई बंधे कट जाने से देवरिया जिले का तिघरा बेलवा बांध पचलड़ी से 3 से 4 किलोमीटर के मध्य ओवरफ्लो होने लगा, जिसके कारण ग्रामीण पलायन कर रहे है।


देवरिया: गोरखपुर के बाद अब देवरिया में भी बाढ़ की स्थिति भयावह हो गई है। राप्ती, गोर्रा नदी में निरंतर बढ़ रहे पानी के दबाव से बंधों की हालत खराब होती जा रही है। गोरखपुर जिले में कई बंधे कट जाने से हालत ऐसी हो गई है कि देवरिया जिले का तिघरा बेलवा बांध पचलड़ी से 3 से 4 किलोमीटर के मध्य ओवरफ्लो होने लगा है। सुबह 3 बजे के लगभग भगवान माझा के पास जमींदारी बांध कट जाने से दर्जनों गांवों में पानी बहुत तेजी से भर रहा है।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर: चिलुआताल में राप्ती नदी पर बना बंधा टूटा, लोग हुए परेशान

बांध कट जाने से गांव में लगातार पानी भरता जा रहा है जिसकी वजह से ग्रामीण अपने पशुओं, बच्चों, परिवार के साथ महफूज ठिकानों पर जा रहे हैं। आलम यह है कि बंधों पर शरण लिए पीड़ितों की रात भूखे पेट कट रही है। हजारों एकड़ फसल जलमग्न हो गए हैं। जंगली जानवर, सुअर, नीलगाय, सांप, खरगोश, शाही आदि जान बचाने हेतु इधर-उधर भाग रहे हैं।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर बार्डर पर बांध टूटने से महराजगंज के दर्जनों गांवों पर संकट

सपा नेता हरेंद्र त्यागी ने बताया कि प्रशासनिक अमला किंकर्तव्यविमूढ़ की स्थिति में है, गांवो में ग्रामीण नाव, राहत सामग्री, प्लास्टिक पन्नी, पशुओं के चारा की मांग कर रहे हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार