कानपुर: गंगा बैराज में बड़ा हादसा, नहाने गए तीन दोस्तों की डूबने से मौत

डीएन संवाददाता

कानपुर में गंगा किनारे दोस्तों के साथ मस्ती करना कुछ लड़कों को महंगा पड़ गया। करीब आधा दर्जन लड़के तेज बहाव में बहने लगे जिसमें से तीन की मौत हो गयी।

गंगा बैराज
गंगा बैराज

कानपुर: यूपी के कानपुर में गंगा बैराज से एक दर्दनाक घटना सामने आयी है जहां दो दोस्त मजे करने गंगा बैराज में उतरे थे लेकिन अचानक दोनों का नदी में नहाने का प्लान बन गया उन्हे क्या पता था कि आज इनके जिंदगी का आखिरी दिन होगा जब वो नहाने के लिए थोड़ा आगे बढ़े तो अचानक वो डूबने लगे ये देखकर उन्हें बचाने के लिए विशाल पानी में कूद गया।

 

विशाल के पीछे एक-एक करके तीन लड़के भी कूद गए। छह लड़के गंगा के तेज बहाव में जब बहने लगे तो मौके पर मौजूद गोताखोरों ने तीन को तो सही सलामत बाहर निकाल लिया। लेकिन अन्य तीन का कहीं कुछ पता नहीं चला। करीब तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद तीनों की लाशें बाहर निकाल ली गईं है फिलहाल पुलिस ने सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

 

 

क्या था मामला

कोहना थाना क्षेत्र स्थित गंगा बैराज में भीषण गर्मी के चलते बर्रा के जरौली इलाके में रहने वाला शिवम सिंह (20) पीपीएन कॉलेज में बीएससी द्वितीय वर्ष का छात्र था। बुधवार को शिवम दोस्त अनूप यादव (21) गंगा में नहाने पहुंचा। दोनों गंगा में नहाने उतर गए और मस्ती करने लगे। इस बीच गहरे पानी में जाने से दोनों डूबने लगे। दोनों युवकों को डूबता देख वहां नहा रहे बर्रा आठ निवासी विशाल व मोहसिन, हर्ष व सचिन ने एक-एक कर बचाने के लिए गए। लेकिन यह सभी भी डूबने लगे। आवाज सुनकर किनारे बैठे गोताखोर पहुंचे और गंगा में छलांग लगाकर डूब रहे लोगों को बाहर निकाला। गोताखोरों ने हर्ष, सचिन, मोहसिन को सही सलामत बाहर निकाल लिया। जबकि शिवम, विशाल व अनूप की डूबने से मौत हो गई।

 

इस बीच घटना की जानकारी पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए परिजनों को घटना की जानकारी दी। पुलिस के मुताबिक आधा दर्जन युवक गंगा में नहाने आए थे। इस बीच गहरे पानी में जाने से तीन की मौत हो गई, जबकि तीन को बाहर निकाल लिया गया।

 

इनकी मौत की खबर सुनते ही परिवार में कोहराम मच गया। शवों को देखकर तीनों की मां और परिवारवालों का बुरा हाल है।

 

इनमें से एक के पिता शिवमंगल सिंह उन्नाव सीओ के अंडर में सिपाही पद पर कार्यरत हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार