धूमधाम से सम्पन्न हुई कोयलबीर बाबा की पूजा आराधना

डीएन ब्यूरो

गुरूवार को निषाद समाज ने रुद्रपुर नगर में बड़े ही धूम धाम से कोयलबीर बाबा की पूजा शुरू की गई, जिसमें सैकड़ों महिलाओं और पुरुषों सहित बच्चे भी शामिल हुए। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर...


देवरिया: स्थानीय कस्बा में कोयलबीर बाबा का पूजन कार्यक्रम गुरूवार को धूमधाम से आयोजित किया गया। इसके बाद परंपरा के अनुसार  कोयलबीर बाबा की पूजा-अर्चना की गई। पूजन के पूर्व गाजे-बाजे व हाथी, घोड़ा के साथ श्रद्धालुओं ने शोभा यात्रा निकाली। शोभा यात्रा बथुआ रीवर फ्रंट पर पहुंची, जहां सभी ने पवित्र गंगा की पूजा पारम्परिक विधि से की।

यह भी पढ़ें: अयोध्या फैसले से पहले गृह मंत्रालय ने राज्यों को सतर्क रहने को कहा 

जिसमें निषाद समाज के सैकड़ों महिलाओं, पुरुष और बच्चे शामिल हुए। मान्यता है कि इस पूजा को विधिवत करने से समाज के लोगों को सुख संपत्ति और उन्नति होती है। बड़ी संख्या में एकत्रित लोगो ने भक्ति भाव के साथ सहभागिता की और रात में सांस्कृतिक कार्यक्रम के आयोजन के साथ विशाल भंडारा आयोजित किया गया। 

यह भी पढ़ें: अयोध्या-बाबरी विवाद पर अदालती फैसले को सभी स्वीकारें : रजा खान
इस सम्बंध में अनेक कथाएँ प्रचलित है जेसे की एक समय पूर्वज नाव लेकर जा रहे थे। नाव नदी के बीच जाकर स्थाई हो गई ओर लाखों प्रयासों के बावजूद भी आगे न बढ़ सकी। इस दौरान बहुत से नाविक मारे गये और निराश नाविकों को किसी बुजुर्ग ने कोयलाबीर बाबा की मन्नत करने को कहा, पूजा चढ़ाने की राय दी, जिसे सभी ने स्वीकार कर पूजा चढ़ाने हेतु अवसर माँगा ।जिस पर नाव सकुशल अपने गंतब्य की ओर बढ़ चली। तभी से निषाद समुदाय के लोग विशेषकर नाविक कोयलाबीर बाबा की पूजा बड़े विधिविधान से करते है।  आज बड़ी संख्या में स्त्री पुरुषों ने गोर्रा नदी के संगम पर नाव की पूजा के बाद नाव के प्रतीक को प्रवाहित किया।

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार