10 साल की मासूम को भी नहीं छोड़ रहे दरिंदे.. बच्चियां जायें तो जायें कहां?

डीएन ब्यूरो

पश्चिम बंगाल के सिमुलिया में 10 वर्षीय दिव्यांग लड़की से सोमवार को कथित तौर पर हैवानियत किये जाने का मामला सामने आया है। बेसुध हालत में उसे अस्पताल ले जाया गया जहां मासूम ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें बच्ची से किसने की दरिंदगी

दिव्यांग बच्ची से हैवानियत (प्रतीकात्मक तस्वीर)
दिव्यांग बच्ची से हैवानियत (प्रतीकात्मक तस्वीर)

उलुबेरिया: जिले के सिमुलिया में 10 वर्षीय दिव्यांग लड़की से सोमवार को कथित तौर पर बलात्कार किया गया। अस्पताल ले जाते समय उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने शुक्रवार को जानकारी दी।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: होटलों और गेस्ट हाउसों में धड़ल्ले से चल रहे हैं सेक्स रैकेट, पुलिस की भी मिलीभगत

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि मूक बधिर लड़की से सोमवार को श्यामपुर पुलिस थानाक्षेत्र स्थित उसके आवास के पास एक शौचालय में बलात्कार किया गया।

उन्होंने कहा कि यद्यपि घटना गुरुवार को प्रकाश में आयी जब लड़की की मां ने यह गौर किया कि वह पिछले कुछ दिन से अलग तरह से व्यवहार कर रही है।

अधिकारी ने कहा कि लड़की को एक स्थानीय अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने बलात्कार की पुष्टि की और उसे उलुबेरिया उप मंडल अस्पताल रेफर कर दिया लेकिन लड़की ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

यह भी पढ़ें: कोल्हू मालिक की शर्मनाक हरकत.. तीन महिलाओं पर फेंका तेजाब

उन्होंने बताया कि 18 वर्षीय आरोपी को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया और उसे उलुबेरिया की अदालत में पेश किया गया जिसने उसे सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया।  (भाषा) 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …