कश्मीर से कन्याकुमारी तक CM योगी का बजा डंका..बने नंबर-1

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम एक और उपलब्धि जुड़ गई है। योगी को गूगल ट्रेंड में सबसे अधिक सर्च किया गया है। गूगल में सर्च किये जाने के मामले में योगी ने कई मुख्यमंत्रियों को इस दौड़ में काफी पीछे छोड़ दिया है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें, गूगल ट्रेंड में सीएम योगी ने किस-किसको छोड़ा पीछे

गूगल ट्रेंड में सीएम योगी नंबर-1 (फाइल फोटो)
गूगल ट्रेंड में सीएम योगी नंबर-1 (फाइल फोटो)

लखनऊः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता का परचम कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक लहरा चुका है। सीएम योगी को पिछले एक साल से गूगल ट्रेंड में सबसे टॉप पर चल रहे हैं। भारत के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों में सीएम योगी गूगल पर सबसे ज्यादा सर्च किये जाने वाले मुख्यमंत्री बन गये हैं। योगी के बाद गूगल पर ट्रेंड किये जाने के मामले में मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान है।    

 

Google trend  में सबसे ज्यादा सर्च किये गये CM योगी

 

गूगल पर ट्रेंड किये जाने के मुख्यमंत्रियों की सूची में योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव, मायावती और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत कई नेताओं को रेस से बाहर कर दिया है। गूगल ट्रेंड के अनुसार, योगी को लेकर 70 फीसदी सर्च हुये हैं जिसमें से ज्यादातर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में योगी के बारे में यूजर्स ने खोजा। गूगल ट्रेंड को लेकर आईटी विशेषज्ञों का कहना है कि गूगल ट्रेंड केवल योगी को कितनी बार सर्च किया गया है यह बताते हैं।    

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

 

गूगल ट्रेंड किसी शख्सियत की लोकप्रियता का पैमाना नहीं होते हैं। बता दें कि बीजेपी के लिये स्टार प्रचारक के रूप में योगी आदित्यनाथ की काफी डिमांड है। कहा जा रहा है कि योगी मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और तेलंगाना में भी पार्टी की तरफ स्टार प्रचारक की भूमिका निभायेंगे। 

इससे पहले भी सीएम योगी ने गुजरात, कर्नाटक और त्रिपुरा में पार्टी के लिये प्रचार किया था। गूगल ट्रेंड में सबसे ज्यादा सर्च किये जाने के मामले में योगी आदित्यनाथ मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान, गुजरात के सीएम विजय रूपाणी, राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे और गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर को भी काफी पीछे छोड़ दिया है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार