सोशल मीडिया पर भूलकर भी न करें इस दस्तावेज को शेयर, सरकार ने जारी की चेतावनी

डीएन ब्यूरो

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने लोगों के मन आधार से जुड़े संशय को दूर करते हुए कहा कि यह पूरी तरह से सुरक्षित है। लेकिन यहां जो ध्यान देने वाली बात हैं वह यह है कि प्राधिकरण ने लोगों को आगाह किया है कि आधार की गोपनीयता व सुरक्षा को बनाए रखने के लिए इसे भूलकर भी सोशल मीडिया पर शेयर न करें। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्लीः आधार को लेकर लोगों के मन में व्याप्त संशय से जुड़े सवालों के जवाब में यूआईडीएआई यानी भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने कहा है कि भूलकर भी अपने आधार नंबर को सोशल मीडिया पर शेयर नहीं करना चाहिए। यूआईडीएआई का कहना है कि गोपनियता व सुरक्षा कारणों को लेकर जिस तरह से पहचान पत्र, पैन कार्ड व डेबिट- क्रेडिट कार्ड को इंटरनेट और सोशल मीडिया पर शेयर नहीं किया जाता, उसी तरह से आधार नंबर की गोपनियता बनाए रखने व निजी सुरक्षा कारणों को लेकर इसे शेयर नहीं किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: बारिश के मौसम में शरीर के सबसे संवेदनशील हिस्सों का इस तरह रखें ख्याल

प्रश्न- उत्तर श्रृंखला में हालांकि यूआईडीएआई ने कहा कि आधार कार्ड को शेयर नहीं करने की सलाह का मतलब यह नहीं है कि यह सेफ नहीं है। यह पूरी तरह से सुरक्षित है। बताते चले कि यूआईडीएआई का कहना है कि आधार का इस्तेमाल बिना किसी रुकवाट के किया जा सकता है। जरूरत है तो सिर्फ सतर्कता बरतने की जिस तरह से पहचान पत्र के प्रयोग में बरती जाती है। 

यूआईडीएआई ने आधार को गलत तरीके से बनवाने से संबंधित सवालों के जवाब में कहा कि सिर्फ बैंक की फोटोकॉपी दिखाकर आधार नहीं बनवाया जा सकता है। इसके लिए ओटीपी और दूसरी चीजें भी चाहिए। आधार के जरिए बैंक में खाता खुलवाने को लेकर प्राधिकरण का कहना है कि इसके लिए पूरी तरह से संबंधित बैंक जिम्मेदार होगा। बैंक को जरूरत हैं कि वह अपने ग्राहकों की सुरक्षा को सुनिश्चित करे।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार