पाकिस्तानी हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादियों को सेना ने कुछ यूं सिखाया सबक

डीएन ब्यूरो

जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में मंगलवार को सुरक्षा बलों के साथ सेना के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादी मारे गये जिनमें सेना का एक भगौड़ा था। जम्मू- कश्मीर में आतंकवादी त्यौहारों के मौके पर उपद्रव मचा रहे हैं । डाइनामाइट न्यूज़ की इस रिपोर्ट में पढ़ें,सेना आतंकियों को कैसे सिखा रही है सबक

2 आतंकियों को सेना ने मार गिराया
2 आतंकियों को सेना ने मार गिराया

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में मंगलवार को सुुरक्षा बलों के साथ सेना के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादी मारे गये जिनमें सेना का एक भगौड़ा था।

यह भी पढ़ें: ओडिशाः ताबतोड़ फायरिंग के बीच सुरक्षा बलों ने 5 नक्सली किये ढेर

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस बीच अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए जिले में एहतियातन मोबाइल इंटरनेट सेवा को स्थगित कर दिया गया है।

उन्होंने बताया कि आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना पर राष्ट्रीय राइफल्स, राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने आज तड़के सेफनगरी गांव में संयुक्त तलाशी अभियान चलाया।

सुरक्षा बलों ने गांव में प्रवेश करने वाले निकासी मार्गों को सील करने के बाद जब एक निश्चित क्षेत्र की बढ़ना शुरू किया तभी आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गयी। 

सूत्रों ने बताया कि मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गये। उनकी पहचान यहां के स्थानीय निवासी मोहम्मद इदरीस सुल्तान उर्फ छोटा अब्रार और दूसरे की पहचान शोपियां के अनवीर निवासी आमिर हुसैन उर्फ अबू सोबान के रूप में हुई। इदरीस जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फेंट्री(जेकेएलआई) का जवान था और इस वर्ष अप्रैल में बिहार में तैनाती के दौरान भाग कर हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया था। 

प्रवक्ता ने बताया कि दोनों आतंकवादी सुरक्षा बलों के प्रतिष्ठआनों पर हमले सहित कश्मीर घाटी में कई हमलों में शामिल रहे थे।

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों के साथ में हुई मुठभेड़.. एक आतंकवादी ढेर

पुलिस ने नागरिकों से मुठभेड़ क्षेत्र में नहीं जाने की अपील की है। उसने कहा है कि इस तरह के क्षेत्रों में विस्फोटक सामग्री हो सकती है। उसने लोगों से मुठभेड़ स्थल की जांच पूरी होने तक सहयोग का अनुरोध किया है। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …