बिहार विधान सभा चुनाव टालने के लिये दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का सुनवाई से इंकार

डीएन ब्यूरो

कोरोना संक्रमण के मद्देनजर बिहार विधान चुनाव टालने के लिये दाखिल जनहित याचिका पर सुनवाई करने से सुप्रीम कोर्ट ने इंकार कर दिया है। पढिये, डाइनामाइट न्यूज की पूरी खबर..

सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो)
सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: देश और राज्य में कोरोना महामारी के चलते बिहार विधान सभा चुनाव टालने के लिये के लिये दाखिल की गयी जनहित याचिका पर सुनवाई करने से सुप्रीम कोर्ट ने मना कर दिया है। याचिका में राज्य में कोरोना और बाढ़ के खत्म होने तक चुनाव रोकने की मांग की गयी थी। देश की शीर्ष अदालत ने कहा कि अभी बिहार चुनाव से संबंधित कोई अधिसूचना जारी नई हुई है, ऐसे में हम इस मामले पर फिलाहल कोई हस्तक्षेप नहीं कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें..बिहार में कोरोना का कहर, 6 सितंबर तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, मरीजों की संख्या एक लाख के पार

याचिका को खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यह एक प्रीमैच्योर याचिका है।कोई अधिसूचना जारी नहीं की गई है। इसलिये इस पर सुनवाई का औचित्य नहीं है। इस याचिका पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट के इंकार के बाद समझा जाता है कि बिहार विधान सभा चुनाव अब अपने समय के मुताबिक हो सकते हैं। हालांकि कोरोना और बाढ़ के कारण इस समय चुनावों में कई तरह के बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना महमारी को देखते हुए बिहार में प्रस्तावित विधान सभा चुनाव को कुछ समय के टालने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की गयी थी, जिस पर कोर्ट ने सुनवाई से इंकार कर दिया है। याचिका में बिहार के कोरोना मुक्त और बाढ़ मुक्त होने तक के लिये चुनावों को टालने की मांग की गयी थी।

यह भी पढ़ें..Bihar Politics: बिहार में चुनाव से पहले दलबदल, RJD के 5 MLC ने छोड़ी पार्टी, JDU में शामिल

चुनाव आयोग समेत राज्य के निर्वाचन विभाग से जुड़े संबंधित अधिकारी नियत समय पर चुनाव कराने की तैयारियों में जुटे हुए है। इसके लिये लगातार बैठकें की जा रही हैं और विभागों को जरूरी दिशा निर्दश भी दिये जा रहे हैं। 

कोरोना संकट के चलते इस बार चुनावों में कई तरह के नये बदलाव करने की घोषणा की गयी है, जिन पर अमल करने के लिये अधिकारियों और विभागों द्वारा तैयारियां की जा रही है।  
 













संबंधित समाचार