2022 के विधानसभा चुनाव में जीत के लिए संगठन मजबूत करना जरूरी: ज्योतिरादित्य सिंधिया

डीएन ब्यूरो

कांग्रेस पार्टी के 2019 लोक सभा चुनावों में निराशाजनक प्रदर्शन को लेकर लखनऊ में कांग्रेस मुख्यालय में बैठक की गई है। जिसमें कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी मौजूद थें। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ की खास खबर..


लखनऊ: कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया आज लखनऊ में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के दफ्तर में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पार्टी के प्रत्याशियों की हार के कारणों की समीक्षा कर रहे हैं। समीक्षा की दौर शाम 6:20 तक चलेगा। जिसमें पश्चिमी उत्तर प्रदेश से संबंधित लोकसभा वार पार्टी प्रत्याशियों, जिला/शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षों, मौजूदा और पूर्व विधायकों के साथ सांसदों के साथ-साथ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों के साथ हार की समीक्षा कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: महराजगंज: कीड़े लगे मिठाई खिला रहे हैं दुकानदार, शिकायत करने पर हो जाते हैं गुस्सा

गौरतलब है की इससे पहले 12 जून को प्रियंका गांधी वाड्रा ने रायबरेली में 40 जिलों के प्रत्याशियों के साथ जिलाध्यक्षों के साथ बैठक की थी। जिसमें हार के कारणों की समीक्षा की गई थी। प्रियंका गांधी ने बुधवार को ही कोआर्डिनेटरों से कह दिया था कि वह उनके साथ विस्तार से बात करना चाहती हैं। इसलिए चार-चार मण्डलों के कोआर्डिनेटरों के साथ नयी दिल्ली में बैठक करेंगी। कोआर्डिनेटर उनको जिलों में संगठन की हकीकत भी बतायेंगे।

यह भी पढ़ें: जेईई एडवांस्‍ड रिजल्‍ट में महाराष्‍ट्र के कार्तिकेय टॉपर, यूपी के हिमांशु को दूसरा स्‍थान

यूपी में आने वाले 2022 के विधानसभा चुनाव को देखते हुए कांग्रेस प्रदेश में संगठन को मजबूत करने में लगी है। जिससे कांग्रेस विधान सभा चुनाव के पहले होने वाली तैयारी को धार दे सकें।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार