लखनऊ: सत्यदेव पचौरी बोले- विभागीय राजनीति बंद होने के कारण घाटे से उबरा यूपी हैंडलूम

डीएन ब्यूरो

यूपी सरकार में सूक्ष्म लघु एवं मध्यम खादी वस्त्र उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यूपीका एवं यूपी हैंडलूम के घाटे से उबरकर मुनाफा कमाने की बात बताई।


लखनऊ: यूपी सरकार में सूक्ष्म लघु एवं मध्यम खादी वस्त्र उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा कि यूपीका एवं यूपी हैंडलूम के घाटे से उबरकर मुनाफा कमाने की बात बताई। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि इससे पहले यूपीका और यूपी हैंडलूम जैसे विभागों में ट्रेड यूनियनों की आंतरिक राजनीति की वजह से विभाग काफी घाटे में चल रहा था, लेकिन भाजपा सरकार आने के बाद कार्य संस्कृति में बदलाव की वजह से विभाग घाटे से उबरकर मुनाफे में आ गया है।

 

इस मौके पर उन्होंने यह भी बताया कि यूपीका और यूपी हैंडलूम कर्मचारियों को अभी भी छठे वेतनमान के तहत वेतन भुगतान किया जा रहा है और इस बारे में जल्द ही वह एक प्रस्ताव भेजेंगे ताकि इन कर्मचारियों को भी उचित वेतन दिया जाए।

स्कूली बच्चों को खादी विभाग से उपलब्ध कराई जायेगी ड्रेस

सूक्ष्म लघु एवं भारी उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने बताया कि सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को निजी संस्थाओं से ड्रेसेस न उपलब्ध कराकर खादी विभाग से उपलब्ध कराई जाए, इसके लिए वे जल्द ही सीएम योगी से बातचीत करेंगे। उन्होंने बताया कि खादी विभाग द्वारा बनाए गए कपड़े कपड़ों की क्वालिटी अच्छी होती है जबकि कीमत भी मामूली होती है। यही वजह है कि सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को खादी के ड्रेसेस दिए उपलब्ध कराएं जाने की कोशिशें विभाग की ओर से की जा रही हैं।

उन्होंने उम्मीद जताई कि इस पर सहमति मिल जाने के बाद जल्द ही सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को खादी की ड्रेसेस उपलब्ध कराए जाएंगे और खादी विभाग को भी आर्थिक फायदा होगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …