चीन को इस देश से भी मिला बड़ा झटका, महत्वपूर्ण मिसाइलों की डिलीवरी पर लगाई रोक

डीएन ब्यूरो

डिजिटल स्ट्राइक के रूप में भारत से झटका मिलने के बाद बड़बोले चीन को उसके पारंपरिक मित्र देश से भी बड़ा झटका मिल गया है। पूरी खबर..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: भारत से रिश्तों में बेरुखी झेल रहे चीन को एक अंतरराष्ट्रीय मोर्चे पर एक बड़ा झटका मिला है। सबसे ज्यादा हैरानी के बात यह है कि चीन को यह झटका उसके मित्र देश रूस से मिला है। रूस ने चीन की उम्‍मीदों के विपरीत जाकर उसके साथ एक अहम रक्षा सौदे को निरस्त कर दिया है।

रूस ने चीन के लिये एस-400 मिसाइलों की आपूर्ति को रोक दिया है। एस-400 मिसाइलें सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइलों हैं, जो चीन के लिये सामरिक दृष्टि से काफी अहम मानी जा रही थी लेकिन रूस अब इनकी आपूर्ति पर तत्‍काल रोक लगा दिया है। रूस का यहा कदम को चीन के लिए बड़ा झटका है। 

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक एस-400 मिसाइलों की आपूर्ति को रोकने से पहले मास्‍को (रूस) ने बीजिंग पर जासूसी करने का आरोप लगाया था। रूसी अधिकारियों ने अपने सेंट पीटर्सबर्ग आर्कटिक सोशल साइंसेज अकादमी के अध्यक्ष वालेरी मिट्को को चीन को गोपनीय सामग्री सौंपने का दोषी पाया है। इस घटना को इससे भी जोड़कर देखा जा रहा है।

रूस द्वारा एस-400 मिसाइलों का वितरण रोकने से पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की महामारी विरोधी गतिविधियों को प्रभावित करेगा। रूस के इस कदम से चीन की परेशानी और बढ गयी है। भारत, अमेरिका, रूस समेत दुनिया के कई देश चीन की करतूतों से नाराज चल रहे हैं।  
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)













संबंधित समाचार