हिंसा में मारे गये सभी लोग डेरा समर्थक: हरियाणा मुख्य सचिव

डीएन ब्यूरो

पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट की फटकार के बाद हरियाणा के मुख्य सचिव ने प्रेसवार्ता कर तमाम मुद्दों पर अपनी बात रखी। पढ़िये क्या-क्या कहा मुख्य सचिव ने..

प्रेस वार्ता करते मुख्य सचिव डीएस ढेसी

चंडीगढ़: साध्वी रेप केस मामले में डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम को जेल भेजे जाने के बाद हुई हिंसा ने प्रशासन को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया। लगातार सामने आ रही प्रशासन की लापरवाही पर पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने भी सरकार से सभी नाकामी का जवाब तलब किया था।

यह भी पढ़ें: राजनीतिक फायदे के लिये हुई हिंसा: हाईकोर्ट

पंचकूला में हुई हिंसा पर हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस ढेसी और डीजीपी बीएस संधू ने आज संयुक्त प्रेसवार्ता की। मुख्य सचिव ने कहा कि हिंसा में 31 लोगों की जान गई। इसमें मारे गए सभी डेरा सच्चा सौदा के समर्थक ही थे। मुख्य सचिव ने राम रहीम के वीआईपी ट्रीटमेंट को एक सिरे से नकारते हुये कहा कि डेरा प्रमुख को गिरफ्तारी के बाद कोई वीआईपी सुविधा नहीं जा रही है। जेल में राम रहीम को आम कैदियों की तरह रखा गया है। एसी की सुविधा देने वाली खबरें गलत हैं।

यह भी पढ़ें: हिंसा पर हाईकोर्ट सख्त, कहा- राम रहीम की संपत्ति बेचकर करें नुकसान की भरपाई

साथ ही मुख्य सचिव ने जानकारी दी कि डेरा हिंसा मामले में अब तक 524 लोगों को हिरासत में लिया गया। उन्होंने बताया कि पंचकूला में 6, सिरसा में 4 सेना कॉलम तैनात हैं। साथ ही मुख्य सचिव ने यह ऐलान किया है कि हिंसा में नुकसान झेलने वालों की राज्य सरकार पूरी भरपाई करेगी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार