NSCN: शांति प्रक्रिया के सफल होने के लिए नागा संगठन रखेंगे उपवास

डीएन ब्यूरो

नागालैंड में जारी शान्ति प्रक्रिया के सफल होने की कामना के लिए राज्य के कई संगठनों और गिरिजाघरों में बुधवार को उपवास रखा जा रहा है।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

कोहिमा: नागालैंड में जारी शान्ति प्रक्रिया के सफल होने की कामना के लिए राज्य के कई संगठनों और गिरिजाघरों में बुधवार को उपवास रखा जा रहा है। सूत्रों के अनुसार नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड-इसाक (एनएससीएन) के शीर्ष नेतृत्व और केंद्र सरकार के बीच इस मुद्दे को लेकर गुरुवार को औपचारिक बातचीत भी की जा सकती है। 

यह भी पढ़ें: 10 बैंकों के विलय के विरोध में एक दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल

नागा संगठनों और केंद्र सरकार के बीच वार्ता को लेकर राज्यपाल आरएन रवि ने कहा बंदूकों के साये में अंतहीन बातचीत नहीं होगी यह अस्वीकार्य है। बातचीत में एनएससीएन महासचिव थुलिंगलेंग मुइवा भी शामिल हो सकते है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने सोमवार और मंगलवार को राजधानी का दौरा किया और मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के साथ इस मामले पर बातचीत की।

यह भी पढ़ें: PM Modi गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर जाएंगे
इस वार्ता को देखते हुए राज्य सरकार ने कई जिलों के उपायुक्तों को सतर्क रहने की हिदायत दी है तथा पुलिस महानिदेशक ने सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टियां भी रद्द कर दी है। उल्लेखनीय है कि यह शान्ति प्रक्रिया वर्ष 1997 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल के सरकार के समय शुरू हुई थी। वर्ष 2015 अगस्त में केंद्र सरकार की तरफ से मुख्य शान्ति वार्ताकार रवि और एनएसईएन के बीच प्रारंभिक मसौदा तय किया गया था जिसमे समझौते पर आपसी सहमति बनाने की बात कही गयी थी। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार