मुरादाबाद: समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष डीपी यादव ने की आत्महत्या, आवास पर खुद को मारी गोली

डीएन ब्यूरो

मुरादाबाद में समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष डीपी यादव ने अपने आवास पर खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। कुछ समय पहले ही उन्हें उनके पद से हटाया गया था। पढ़िए डाइनामाइट न्यूज़ की पूरी रिपोर्ट

सपा के पूर्व जिला अध्यक्ष डीपी यादव ने की आत्महत्या
सपा के पूर्व जिला अध्यक्ष डीपी यादव ने की आत्महत्या


मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष डीपी यादव ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। डीपी यादव पुराने सपाई थे। हाल ही में लोकसभा चुनाव के दौरान उन्हें जिलाध्यक्ष पद से हटाया गया था। डीपी यादव ने मझोला थाना क्षेत्र में अपने बुद्धि विहार स्थित आवास पर सुसाइड किया है। डीपी यादव ने थाना मझोले क्षेत्र की बुद्धि विहार कालोनी में अपने आवास के ग्राउंड फ्लोर पर बने कमरे में आत्महत्या कर ली।

डाइनामाइट न्यूज़ संवाददाता के अनुसार मुरादाबाद समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष डी पी यादव का संदिग्ध परिस्थितियों में उनके आवास के ग्राउंड फ्लोर के कमरे में शव मिलने से हड़कंप मच गया। सूचना पर फोरेंसिक टीम के साथ पुलिस के आला अधिकारी पहुंच गए हैं। पहली मंजिल पर ही परिवार रहता है, जैसे ही परिवार को डीपी यादव के आत्महत्या की खबर मिली परिवार में कोहराम मच गया।

सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी फोरेंसिक टीम के सपा जिलाध्यक्ष के आवास पर पहुंच गए। लोगों की भारी भीड़ भी जुटनी शुरू हो गई। फिलहाल पुलिस ने परिवार के अलावा किसी के भी अंदर जाने पर रोक लगाई हुई है। फोरेंसिक टीम साक्ष्य जुटा रही है पुलिस पूछताछ कर रही है। घर वा आसपार लगे सीसीटीवी की फुटेज भी एकत्र की जाएगी। अभी आशंका जताई जा रही है की गोली मारकर आत्महत्या की गई है।

डाइनामाइट न्यूज़ संवाददाता के अनुसार डीपी यादव के पास मुरादाबाद के जिले की कमान थी, लेकिन लोकसभा चुनाव में मुरादाबाद लोकसभा के टिकिट को लेकर मौजूदा सांसद एसटी और रुचि वीरा के बीच हुए विवाद के चलते डीपी यादव को जिला अध्यक्ष पद से हटा कर रुचि वीरा के करीबी जयवीर यादव को जिला अध्यक्ष बना दिया गया था। जिसके बाद डीपी यादव पूरे चुनाव नजर नहीं आए थे। अब आत्महत्या का क्या कारण रहा ये जांच के बाद ही पता चल पाएगा।










संबंधित समाचार