अयोध्या विवाद पर केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि लौटाने की डाली अर्जी

डीएन ब्यूरो

राम जन्मभूमि से जुड़े अयोध्या विवाद में केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार इस मामले के चलते सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई और विवादित ज़मीन को छोड़कर बाकी ज़मीन वापस लौटाने की अर्जी दे दी। पढ़िए डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट...

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: राम जन्मभूमि से जुड़े अयोध्या विवाद में केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केंद्र सरकार इस मामले के चलते सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई और विवादित जमीन को छोड़कर बाकि जमीन वापस लौटाने की अर्जी दे दी। मोदी सरकार ने अपनी अर्जी में हिन्दू पक्षकारों की 67 एकड़ जमीन का कुछ हिस्सा न्यास को वापस देने को कहा है।


बीजेपी नेता सुब्रमणयम स्वामी ने ट्वीट कर कहा कि रामजन्मभूमि केस में केद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है। सरकार ने अयोध्या विवाद में विवादित जमीन को छोड़कर बाकी जमीन को लौटाने की मांग की है और इस पर जारी यथास्थिति को हटांने की मांग की है। सरकार के इस फैसले का हिंदूवादी संगठनो ने स्वागत किया है।

आज होनी थी सुनवाई
राम जन्मभूमि से जुड़े अयोध्या विवाद के केस की सुनवाई आज सुप्रीम कोर्ट में होनी थी। लेकिन पांच जजों की बैंच में शामिल जस्टिस एसए बोबडे की गैर मौजूदगी की वजह से आज होने वाली सुनवाई को टाल दिया गया था। बता दें कि इस बैंच में जस्टिस बोबडे के अलावा चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस अब्दूल नजीर हैं।

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार