आज ही के दिन स्वामी विवेकानंद ने सिस्टर निवेदिता को अपने शिष्य के रूप में किया था स्वीकार

डीएन ब्यूरो

इतिहास में आज के दिन का विशेष महत्व है। आज के दिन देश (भारत) और दुनिया (विश्व) में कई महत्वपूर्ण घटनाएं घटी जो हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज होकर रह गईं हैं। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 25 मार्च की प्रमुख घटनाएं..

स्वामी विवेकानंद
स्वामी विवेकानंद

नई दिल्ली:  इतिहास में आज के दिन का विशेष महत्व है। आज के दिन देश (भारत) और दुनिया (विश्व) में कई महत्वपूर्ण घटनाएं घटी जो हमेशा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज होकर रह गईं हैं। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 25 मार्च की प्रमुख घटनाएं..

1421 - इटली में वेनिस शहर की स्थापना।

1306 - रॉबर्ट ब्रूस को स्कॉटलैंड का नया राजा बनाया गया।

1700 - इंग्लैंड, फ्रांस और नीदरलैंड ने दूसरी उन्मूलन संधि पर हस्ताक्षर किये।

1807 - इंग्लैंड में सबसे पहले रेलवे यात्री सेवा की शुरुआत हुई।

1807 - ब्रिटेन की संसद ने दास व्यापार समाप्त कर दिया।

1821 - ग्रीस ने तुर्की से स्वतंत्रता हासिल की।

1898 - स्वामी विवेकानंद ने सिस्टर निवेदिता को अपने शिष्य के रूप में स्वीकार किया।

1905 - प्रसिद्ध भारतीय राजनेता मिर्जा राशिद अली बेग का जन्म।

1924- ग्रीक ने स्वयं को गणतंत्र घोषित किया।

1954- देश के पहले हेलिकाॅप्टर एस-55 को दिल्ली में उतारा गया।

1987 - दक्षेस (सार्क) देशों का स्थायी सचिवालय नेपाल की राजधानी काठमांडू में खोला गया।

1989- अमेरिका में निर्मित देश का पहला सुपर कम्प्यूटर एक्स-एमपी 14 राष्ट्र को समर्पित किया गया।

1999 - भारत द्वारा पाकिस्तानी नागरिकों के आठ वर्गों को वीजा मामले में छूट देने की घोषणा।

2005 - संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने सूडान के लिए शांति सेना की मंजूरी दी ।

2008 - टाटा ग्रुप की पुणे स्थित फर्म 'कम्युटेशन रिसर्च लैबोरेटरीज' ने इंटरनेशनल फर्म 'याहू' से गठजोड़ किया।

2011 - देश में पारित सिक्का निर्माण अधिनियम 2011 के तहत नोट फाड़ने या सिक्के को गलाने पर सात साल की कैद का प्रावधान किया गया।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …