महराजगंज: राशन वितरण में कोटेदार की मनमानी, गरीबों को नहीं मिल रहा योजनाओं का लाभ

डीएन संवाददाता

गरीबों के लिये राशन वितरण प्रणाली को मजबूत करने में जुटी सरकार की योजनाओं को कई गलत कोटेदारों के कारण बड़ा झटका लग रहा है। यहां भी एक ऐसा मामला सामने आया है। ग्रामीणों का आरोप है कि कोटेदार राशन वितरण में भारी धांधली कर रहा है। पूरी खबर..

 कोटेदार से बातचीत के लिये जुटे ग्रामीण
कोटेदार से बातचीत के लिये जुटे ग्रामीण

महराजगंज: प्रदेश सरकार लगातार गरीबों के लिये राशन वितरण प्रणाली को सही करने की कोशिशों में जुटी हुई है, ताकि गरीब जनता को इसका समुचित लाभ मिल सके, लेकिन कोटेदारों की गड़बड़ी से कई जरूरतमंदों यह लाभ नहीं मिल पा रहा है। सिसवा क्षेत्र के भोथीयाही के कोटेदार पर स्थानीय लोगों ने वितरण प्रणाली में भारी पैमाने पर अनियमितताएं बरतने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों का कहना है कि अनियमितताओं और मनमानी का विरोध करने पर कोटेदार द्वारा धमकियां दी जाती है, जिससे लोग सहमे हुए हैं।  

 

 

कोटेदार कर रहे हैं मनमानी 

ग्रामीणों ने कोटेदार पर राशन की कालाबाजारी करने का आरोप लगाते हुए डाइनामाइट न्यूज़ से कहा कि कोटेदार हासिम कहता है कि जिन लोगों ने पिछले महीने राशन लिया था, उसे राशन नहीं दिया जा सकता है। ग्रामीणों ने कहा कि कोटेदार अपनी मनमानी से अपने ख़ास लोगों को खाद्यान्न का वितरण करता है। 

यह भी पढ़ें:महराजगंज: अगस्त क्रांति दिवस पर कांग्रेसियों का जुलूस, देवरिया मामले को लेकर भाजपा पर हमला

ग्राम प्रधान पर भी भारी कोटेदार 

ग्रामीण जब कोटेदार की शिकायत लेकर ग्राम प्रधान मरुनिशा के पास गए तो कोटेदार ने ग्राम प्रधान के पति के साथ भी बदतमीजी की और उन्हें उल्टा-सीधा कहते हुए मामले में हस्तक्षेप न करने को कहा 

 

 

 

यह भी पढ़ें:महराजगंज: प्रशासनिक लापरवाही के कारण टूटा पुल, दर्जनों गांवों का संपर्क भी ध्वस्त, जनता आक्रोशित

धनउगाही करने का आरोप

ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा कि कोटेदार उनके राशन कार्ड पर राशन नहीं दे रहा है और नये राशन कार्ड बनाने के लिए 300 से 400 रुपये की मांग कर रहा है। नये राशन कार्ड बनाने के नाम पर कोटेदार पर धन उगाही का आरोप भी लगाया गया है।   

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार