महराजगंज: दो पत्नियों से छुटकारा पाने के लिये दूसरी बीबी का मर्डर, बेवफा पति गिरफ्तार

डीएन संवाददाता

महिला की हत्या करने समेत उसके बच्चों को लाठी-डण्डों व धारदार हथियारों से जख्मी करने के मामले का पुलिस ने खुलासा करते हुए हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया है। डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में पढ़ें, किसने और क्यों दिया गया इस मर्डर केस को अंजाम

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

महराजगंज: थाना घुघली पुलिस ने महिला की हत्या में वांछित आरोपी को गिरप्तार कर लिया है। महिला की हत्या करने वाला और कोई नहीं बल्कि उसका ही पति निकला। हत्यारोपी ने दो शादियां की हुई थी। अलग रह रही पहली बीबी द्वारा दूसरे व्यक्ति से शादी करने से खफा पति पहली पत्नी को सबक सिखाना चाहता था और उसे हत्या के केस में फंसाने के लिये उसने दूसरी पत्नी की हत्या कर डाली।

यह भी पढे़ं: महराजगंज: कलयुगी दादा ने मासूम पोती की धारदार हथियार से निर्मम हत्या की 

घुघली पुलिस ने हत्यारोपी दीपक पाण्डेय उर्फ अयोध्या पाण्डेय पुत्र शम्भू पाण्डेय निवासी ग्राम रतनपुर थाना कोठीभार को घुघली रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से हत्या में प्रयुक्त हथियार बी बरामद कर लिया है।  

यह भी पढे़ं: महराजगंज: पूर्व प्रधान प्रतिनिधि की हत्या का मुख्य सूत्रधार भी चढ़ा पुलिस के हत्थे, जाने क्यों मारी थी गोली 

हमले में तीन लोग घायल 

पुलिस के मुताबिक बीती 20 सितम्बर की रात डायल 100 को बदमाशों द्वारा एक व्यक्ति, उसकी पत्नी व बच्चे को लाठी-डण्डों व धारदार हथियारों से मारकर घायल करने की सूचना मिली थी। स्थानीय पुलिस ने मौके पर पहुँच कर घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इस हमले में दीपक पाण्डेय उर्फ अयोध्या पाण्डेय, उसकी पत्नी पूजा पाण्डेय व डेढ़ वर्ष का लड़का घायल हो गये थे। ईलाज के दौरान पूजा पाण्डेय की मृत्यु हो गयी थी। जबकि दीपक पाण्डेय को मेडिकल कालेज गोरखपुर रेफर कर दिया गया था। 

यह भी पढे़ं: महराजगंजः सर्राफा व्यवसायी से रंगदारी मांगने वाले दो बदमाश गिरफ्तार, 2 देसी कट्टे भी बरामद 

दो पत्नियों की बीच फंस गया था दीपक

पुलिस द्वारा इस सम्बन्ध में 21 सितम्बर को रामलखन पाण्डेय व 03 अज्ञात व्यक्तियों के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत किया गया। पुलिस को जांच में पता चला कि दीपक पाण्डेय ने दो शादियां की थी। उसने पहली शादी अर्चना पुत्री रामलखन पाण्डेय हरखपुरा टोला सोनबरसा थाना घुघली से की थी। शादी के कुछ महीनों बाद से ही दोनों में झगड़े होने लगे, जिस कारण उसकी पहली पत्नी अपने माईके में आकर रहने लगी। इधर दीपक पाण्डेय ने डेढ़ वर्ष पूर्व पूजा उर्फ रूक्मिणी परसा गिदहीं थाना घुघली को भगाकर दूसरी शादी कर ली थी। शादी के कुछ महीने बाद ही पूजा व दीपक में भी घरेलू विवाद होने लगा। जिससे दीपक पूजा से परेशान रहने लगा और उससे भी तलाक लेना चाहता था लेकिन पूजा न तो तलाक देना चाहती थी और न ही अपने पति दीपक को छोड़ना चाहती थी। इस बीच दीपक की पहली पत्नी अर्चना को दीपक की दूसरी शादी का पता चला। उसने दूसरी शादी करने पर दीपक और उसके परिवार के विरुद्ध कोर्ट में केस दर्ज कर लिया। दीपक अपनी पहली पत्नी के मुकदमे से परेशान रहने लगा और अपनी दूसरी पत्नी पूजा से भी छुटकारा पाना चाहता है। 

हत्या की साजिश और खुद पर भी वार

आरोपी ने दूसरी पत्नी से छुटकारा पाने और पहली पत्नी को फंसाने की योजना बना डाली। 20 सितम्बर को उसने साजिश रची और अपनी दूसरी पत्नी व बच्चे को लेकर लेहडा मंन्दिर ले गया। वापसी में ग्राम परसा गिदही के पास उसने अपनी दूसरी पत्नी पूजा को जान से मारने की नियत से रॉड से प्रहार कर मरणासन्न कर दिया तथा खुद पर भी चाकू से वार किये और बेटे को भी घायल किया। इसके बाद उसने घटना की सूचना डायल 100 को दी।

पुलिस द्वारा कड़ी पूछताछ और जांच में दीपक ने अपना जुर्म स्वीकार किया। उसकी निशानदेही पर आला कत्ल भी बरामद किया गया। आरोपी दीपक पाण्डेय को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया गया।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)