महराजगंज: सावन के अंतिम सोमवार को शिवालय में नागदेवता ने दिये दर्शन, उमड़ी भीड़, आश्चर्य में जनता

डीएन संवाददाता

सावन माह के अंतिम सोमवार को शिव मंदिर में अचानक नागदेवता के प्रकट होने से श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। इस खबर के बाद वहां बड़ी संख्या में लोग पहुंचने लगे और नागराज की पूजा-अर्चना करने में जुट गये। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ की खास रिपोर्ट

पूजा करते लोग
पूजा करते लोग

महराजगंज: सावन के अंतिम सोमवार के दिन आज एक शिव मंदिर परिसर में अचानक एक नागदेवता ने दर्शन दे दिये। लोगों के उस समय होश उड़ गये, जब मंदिर परिसर में स्थित पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाते वक्त वहां नागराज को बैठे देखा। नागराज को देखकर किसी भक्त ने मंदिर के पुजारी को इसकी सूचना दी। पूजारी भी आश्चर्य में पड़ गये और इसे शुभ बताया। भक्त नागदेवता की पूजा-अर्चना करने लगे।

पीपल के पेड़ से लिपटे नागराज

 

यह मामला फरेंदा विकास खंड के गोपलापुर गांव का है। इस गांव में स्थित भगवान शिव के मंदिर परिसर में स्थित पीपल के पेड में पसरे नागराज की भक्तों ने सोमवार के दिन खूब पूजा-अर्चना की और उस पर जल तक चढाया। 

पूजा-अर्चना के लिये उमड़ी भक्तों की भीड़

 

महादेव का मास सावन माह के साथ-साथ सोमवार के दिन नागदेवता के मंदिर में प्रकट होने की खबर जल्दी ही आसपास के अन्य क्षेत्रों तक भी जा पहुंची और लोग मंदिर में सांप की पूजा के लिये बड़ी संख्या में आने लगे। शिव भक्त व ग्रामीण इसे भोले रूप मान कर पूजा पाठ कर रहे हैं।

यह क्षेत्र का प्रसिद्ध मंदिर है, जहां हर सोमवार के साथ ही अन्य अवसरों पर भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना होती है। मंदिर में सावन के अंतिम दिन नागराज के प्रकट होने से सभी आश्चर्य में है। 
 













संबंधित समाचार