महराजगंज: पहली बारिश में रास्‍ते बने तालाब, वाहन छोड़िए पैदल चलना भी मुश्किल

डीएन ब्यूरो

अभी मानसून आया भी नहीं है लेकिन जिले के गांवों के गांवों कस्‍बों के रास्‍तों का हाल बदतर हो चला है। बीते दिन बारिश के बाद सड़कें तालाब बन गई हैं। प्रशासन और चुनावों में वोट मांगने के लिए गांव-गांव पहुंचने वाले जनप्रतिनिधि दोनों ही पूरी तरह निष्क्रिय हैं। सड़क ठीक करवाने को लेकर आसपास के गांव के लोगों ने कई बार इसकी प्रशासन से शिकायत भी की है लेकिन कार्रवाई पर दोनों ओर से केवल आश्‍वासन ही मिला है।

हल्‍की बारिश के बाद ही रास्‍तों पर भरा पानी
हल्‍की बारिश के बाद ही रास्‍तों पर भरा पानी

नौतनवा (महराजगंज): जिले के विकासखंड नौतनवा से गावों को जोड़ने वाली कई मार्गों की हालत बेहद जर्जर है। वहीं सीजन की पहली बारिश ने रास्‍तों की पूरी पोलपट्टी खोलकर सामने रख दी है। कई सड़क पानी से लबालब भरकर तालाब बन गई है। बाइक, साइकिल और पैदल निकलने वालों को सबसे अधिक दिक्‍कत हो रही है।

यह भी पढ़ें: अवैध तरीके से लकड़ी नेपाल ले जा रहे तस्‍करों को एसएसबी ने पकड़ा

महराजगंज के विकास खण्ड नौतनवा क्षेत्र के सिंहपुर, करैला अजगरहा, पिपरहवा व मिलन चौराहे पर सबसे अधिक बुरी हालत है। सड़क पर पानी भरा हुआ है गुजरने वालों को पता ही नहीं चलता है कि कहां गड्ढा है और कहां समतल। जिससे कई बार लोग कीचड़ में गिर भी चुके हैं। 

यह भी पढ़ें: सड़क हादसे में घायल 5 में से एक की मौत, कार-ट्रैक्‍टर ट्रॉली में हुई थी टक्‍कर

वहीं विचार करने वाली बात यह है कि अभी बरसात ठीक से हुई भी नहीं है तब यह हाल है तो जुलाई अगस्‍त के माह में रास्‍तों की क्‍या तस्‍वीर होगी। चुनाव के समय जनप्रतिनिधियों ने तमाम वादे किए थे लेकिन अब ऐसा लगता है कि कोई राजनेता इन खराब रास्‍तों का समाधान नहीं खोजने वाला। प्रशासन ने भी कीचड़ से भरे रास्‍तों को उनके हाल पर छोड़ दिया है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …