महराजगंज: 24 घंटे से अधिक हुआ महाव नाले को टूटे, ग्रामीण भयभीत, प्रशासन नींद में

डीएन संवाददाता

महाव नाले की स्थिति 24 घंटे बाद औऱ भी भयंकर हो गयी है, इसमें पानी का बहाव तेज होने लगा है लेकिन प्रशासन के कान पर अभी तक जूं नहीं रेंगने से ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। मौके से डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..



महराजगंज: 24 घंटे बीत जाने के बाद भी टूटे हुए महाव नाले की मरम्मत नहीं हो सकी है और तो और पानी की धारा और बढ़ गई है। महाव का पानी और भी गांवो  को अपने आगोश में ले रहा है। महाव का पानी आज अमहवां, बिइरियाँ, मानिकापुर,और खजहिया, समेत आधा दर्जन गावों को प्रभावित कर दिया है और जो सबसे बड़ी बात है वो ये है की 24 घंटे बीत जाने के बाद भी अभी तक न तो सिंचाई विभाग और न ही जिला प्रशासन का कोई अधिकारी मौके पर जा कर वहा का हाल जाना है।

यह भी पढ़ें: महराजगंज में महाव नाले के टूटने की खबर के बाद डीएम अमरनाथ उपाध्याय डाइनामाइट न्यूज़ पर LIVE

जिले के ठुठीबारी और बरगदवा के बीच में पड़ने वाले महाव नाला प्रदेश में चर्चित नाला बन गया है, वजह ये है कि बीते महीने ही इस नाले की सफाई में सिंचाई विभाग के लोगों ने सरकार के 2 करोड़ रुपए से सफाई और मरम्मत करायी थी। इस सफाई में ग्रामीणों ने काफी नाराजगी जताई थी। काम सही न होने की वजह से और विभाग की मनमानी का आज खामियाजा यहाँ के लोग भुगत रहे हैं। आज नतीजा यह है की नाला टूट गया और आस-पास के करीब आधा दर्जन गांव प्रभावित है।

यह भी पढ़ें: महराजगंज में सिंचाई विभाग के डकैत इंजीनियरों का काला-कारनामा, करोड़ों खर्च फिर भी टूटा महाव नाला, कई गांवों में घुसा पानी 

डीएम ने दिया है जाँच का आश्वासन

महराजगंज के जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय तक यह मामला पहुंचा तो उन्होंने आनन फानन में एडीएम स्तर के अधिकारी से जाँच  कराने का निर्णय लिया। 

सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता की सफाई

इस सम्बन्ध में महराजगंज के सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता धर्मेन्द्र कुमार सिंह ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि महाव नाले पर हमारे एई और जेई गए थे पानी का जलस्तर कुछ कम हुआ है।
 













संबंधित समाचार