महराजगंज: हैंडपंपों से निकल रहा दूषित पानी पीने को लोग मजबूर, ग्रामीणों में भारी आक्रोश

डीएन ब्यूरो

स्थानीय प्रशासन और जनप्रतिनिधियों की घोर लापरवाही के कारण ग्रामीण दूषित पानी पीने को मजबूर है। वर्षों पहले लगाये गये हैंडपंपों से पिछले एक साल से दूषित पानी निकल रहा है, जिसका कोई सुध लेने वाला नहीं है। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट...

जंग लगे हैंडपंप
जंग लगे हैंडपंप

महराजगंज: नौतनवां के खनुआ चौराहा के सरोजनी नगर में लोगों की प्यास बुझाने के लिए वर्षों पहले नगर पालिका द्वारा हैंडपंप लगवाया गया था, लेकिन अब इस हैंडपंप द्वारा गंदा पानी उगला जा रहा है। जानकारी के अभाव में तमाम लोग इस प्रदूषित पानी का सेवन कर रहे हैं, जिससे उनका स्वास्थ्य प्रभावित हो रहा है। 

स्थानीय लोगों द्वारा इस मामले की कई बार शिकायत भी की गयी लेकिन इसके बावजूद भी प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंगे, जिसे कारण जनता में अब भारी रोष पनप रहा है।

खनुआ तिराहा सरेजनी नगर वार्ड नंबर–15 में लोगों की प्यास बुझाने के लिए सात इंडिया मार्का हैंडपंप वर्षों पहले लगवाये गए। करीब साल भर से ये सभी हैंडपंप दूषित पानी उगल रहे हैं। जिस कारण पानी के लिए लोगों को दूर-दराज लगे हैंडपंपों तक जाना पड़ रहा है। कई लोग मजबूरीवश इसी हैंडपंप से निकलने वाले दूषित पानी का सेवन कर गंभीर बीमारियों को न्यौता देने को विवश हैं। इससे लोगों में रोष गहराता जा रहा है।

 हैंडपंप से निकल रहे दूषित पानी पीने से लोगों में आक्रोश

लोगों ने कहा कि हैंडपंप के दूषित पानी देने की वजह से इसका सेवन करने में बीमारियों का भय सता रहा है। गर्मी के मौसम में पानी को लेकर परेशानी बढ़ गई है। कई बार सभासद के साथ ही संबंधित अधिकारियों को हैंडपंप को रि-बोर कराने के लिए कहा गया। बावजूद इसके वह इस गंभीर समस्या पर ध्यान नहीं दे रहे हैं, जिससे लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 

स्थानीय निवासी राजेश गुप्ता ने बताया कि वर्षों पहले लगवाया गया हैंडपंप ख़राब होने से पानी खरीद कर पीना पड़ रहा है। वहीं रणकोले का कहना है कि जबसे हैंडपंप लगा है तब से कई बार रिबोर किया गया लेकिन स्थित जस की तस बनी हुई है। अच्छेलाल ने कहा कि हैंडपंप का फर्श पूरी तरह से जर्जर हो चुका है, जिससे सारा पानी सड़क पर फैल जाता है। जिससे लोगो को आने जाने ने काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। दुर्गा प्रसाद ने बताया कि इस संबंध में  कई बार शिकायत की गई किन्तु इन्हें सही करवाने के लिये जिम्मेदार लोगों द्वारा अब तक कोई सुध नहीं ली गई।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …