महराजगंज: गेहूं क्रय केन्द्रों पर भ्रष्टाचार को लेकर डीएम ने दिखायी सख्ती, बाबू सस्पेंड और सचिव पर दर्ज होगा मुक़दमा

डीएन संवाददाता

जिले के गेहूं क्रय केन्द्रों से लगातार मिल रही शिकायत पर कड़ी कार्यवाही करते हुए जिलाधिकारी ने विभाग से जुड़े संबंधित भ्रष्ट अधिकारियों और विक्रय केन्द्रों के खिलाफ सख्त कदम उठाया है, जिसकी किसानों द्वारा खूब सराहना की जा रही है। पूरी खबर..

डीएम के आदेश की काॅपी
डीएम के आदेश की काॅपी

महराजगंज: सरकारी गेहूं क्रय केन्द्रों पर किसानों के साथ सचिवों और बाबुवों की लूट-खसोट पर जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय ने सख्त तैवर दिखाये है। जिलाधिकारी ने सदर के पकड़ी खुर्द गेहू क्रय और एआर कॉपरेटिव श्रीराम को निलम्बित करने का आदेश दिया है। इसके अलावा डीएम ने इसी मामले को लेकर वृजमनगंज के बहदुरी क्रय केंद्र के सचिव सन्तराम के खिलाफ मुक़दमा दर्ज करने का निर्देश दिया है।

लंबे समय से गेहूं क्रय केन्द्रों से शिकायत मिल रही थी। किसानों के गेहूं के तौल में हेरा-फेरी कर उनके खातों में कम पैसा भेजा जा रहा है। इसके अलावा समिति के सचिवों को जो किसान कमिशन दे रहे थे, केवल उन्हें ही फोन करके बुलाया जा रहा है। गेहू तौल के लिए नंबर लगवाने के बाद भी गेहूं नहीं तौला जा रहा था।

जिलाधिकारी को जब इस मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने इसके लिये ठोस कार्यवाही करते हुए कुछ के निलंबन और कुछ के खिलाफ जांच के आदेश जारी कर दिये है। डीएम की इस कार्यवाही से जिले के भ्रष्टाचारियों में दहशत का माहौल है।

किसानों और क्षेत्र की जनता ने जिलाधिकारी के इस सख्त कदम की प्रशंसा की है। किसानों का कहना है कि इस कार्यवाही से अन्य भ्रष्ट लोगों को भी सबक मिलेगा और जनता के कार्य ठीक ढंग से हो सकेंगे।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …