करुणानिधि की अंतिम यात्रा में उमड़ा जन सैलाब, गमगीन माहौल में मरीना बीच पर दी गयी समाधि

डीएन ब्यूरो

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि को आज शाम को मरीना बीच पर दफनाया गया। इस दौरान देश के कई दिग्गज नेता और उनके समर्थक मौजूद रहे। पूरी खबर..

श्रद्धांजलि देते नेता

चेन्नई: तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि को  मरीना बीच से अंतिम विदाई दी गई। भारी जनसैलाब और गमगीन माहौल में मरीना बीच पर उन्हें समाधि दी गयी। इस मौके पर उनके हजारों समर्थक और पूरा परिवार मौजूद रहा। उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया गया। उनकी अंतिम यात्रा में हर आम और खास ने हिस्सा लिया।

 

करुणानिधि के पार्थिव शरीर को चेन्नई के राजाजी हॉल में रखा गया था। जहां उनके अंतिम दर्शन के लिये लोगों की भारी भीड़ उमड़ रही। तमिल की राजनीति में अहम स्थान रखने वाले करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने के लिये तमिलनाडु समेत देश भर से लोगों का तांता लगा रहा।

बुधवार सुबह तक राज्य सरकार ने उनके पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर दफनाने की अनुमति नहीं दी थी। जिसके बाद द्रमुक ने हाई कोर्ट में अपील की। कोर्ट ने सुबह 11 बजे द्रमुक के पक्ष में फैसला सुनाया। इस फैसले के बाद मरीना बीच की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। कोर्ट से आदेश मिलने के बाद  उनको दफनाने की तैयारी पूरी की गई थी।  

कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गाधी ने करुणानिधि के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन कर उन्‍हें श्रद्धांजलि अर्पित की। वहीं, बिहार के पूर्व उप मुख्‍यमंत्री और राजद नेता तेजस्‍वी यादव के अलावा सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी यहां पहुंचकर करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित की। इससे पहले पीएम मोदी भी उनके अंतिम श्रद्धांजलि दी।  

Image result for एम करुणानिधि

आप को बता दें कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और डीएमके के प्रमुख एम करूणानिधि का मंगलवार को शाम 6 बजकर 10 मिनट पर निधन हो गया था। वे 94 साल के थे। तमिल राजनीति के सबसे करिश्माई नेता रहे करूणानिधि को 28 जुलाई को तबियत ख़राब होने के बाद चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने अंतिम सांसे ली।  

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार