लखनऊ: बिल न चुकाने पर अस्पताल के निदेशक ने मरीज व परिजन को बनाया बंधक

डीएन संवाददाता

राजधानी लखनऊ के गुडंबा क्षेत्र के प्राइवेट अस्पताल से एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। बिल न चुकाने पर अस्पताल के निदेशक ने गर्भवती महिला और उनके परिजनों को बंधक बना लिया।

गुडंबा क्षेत्र के अस्पताल  प्रशासन द्वारा गर्भवती महिला के परिवार को बनाया बंधक
गुडंबा क्षेत्र के अस्पताल प्रशासन द्वारा गर्भवती महिला के परिवार को बनाया बंधक

लखनऊ: गुडंबा क्षेत्र के प्राइवेट अस्पताल से एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। अस्पताल का बिल न चुकाने पर प्रशासन ने गर्भवती महिला समेत परिजनों को बंधक बना लिया। नीतू एक गर्भवती महिला हैं जो ब्लड प्रेशर की शिकायत के चलते गौरा बाग स्थित साई अस्पताल में दो हफ्तें पहले भर्ती हुई थी। इलाज के पैसे खत्म हो जाने के कारण परिजन द्वारा 98 हजार रुपए का बिल जमा न कर पाने के कारण, अस्पताल के निदेशक ने मरीज और उसके परिजन को बंधक बना लिया था। 

पुलिस के हस्तक्षेप के बाद अस्पताल प्रशासन ने मरीज को जाने दिया घर

पुलिस अधिकारी के मुताबिक, गर्भवती महिला और उसके परिजनों के काफी गिड़गिड़ाने के बाद भी अस्पताल प्रशासन ने मरीज और उसके रिश्तेदार को नहीं छोड़ा था। जैसे हीं मामले की ख़बर पुलिस और मीडिया तक पड़ी तो अस्पताल प्रशासन ने मरीज और उसके परिजनों को घर जाने दिया। वहीं गंभीर हालत में गर्भवती महिला को उसके दूसरे अस्पताल में भर्ती करवाया गया हैं।

मरीज की मां ने अस्पताल प्रशासन पर लगाया धमकी देने का आरोप

नीतू की मां रामदेवी ने अस्पताल संचालक पर आरोप लगाते हुए कहा कि अस्पताल प्रशासन इलाज के दौरान दो लाख रुपए पहले ही ले चुके थे। दिन-प्रतिदिन इलाज का खर्च बढ़ाते देखे नीतू की मां ने अस्पताल से जाने का फैसला लिया था परंतु अस्पताल संचालक ने उनको जाने नहीं दिया। और साथ ही जान से मारने की धमकी भी थी। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …