महाराजा सुहेल देव के नाम में पासी लगाये बगैर डाक टिकट जारी करने के विरोध में धरने पर बैठी सांसद सावित्री बाई फुले

डीएन संवाददाता

यूपी के बहराइच जिले से सांसद सावित्री बाई फुले महाराजा सुहेलदेव के नाम से जारी किए गए डाक टिकट में उनके नाम के आगे पासी न लगाए जाने के विरोध में अंबेडकर प्रतिमा के नीचे धरने पर बैठ कर विरोध प्रदर्शन किया। डाइनामाइट न्यूज की स्पेशल रिपोर्ट..

लखनऊ: सांसद सावित्री बाई फुले ने कुछ दिनों पहले भाजपा से इस्तीफा देकर भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ने की चेतावनी दी थी। वहीं आज महाराजा सुहेलदेव के नाम से जारी किए गए डाक टिकट से उनके नाम के आगे पासी ने लिखे जाने से नाराज सांसद सावित्री बाई फुले ने पासी समाज के लोगों के साथ अंबेडकर प्रतिमा के नीचे भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने गाजीपुर में मेडिकल कॉलेज की रखी आधार शिला व महाराजा सुहेलदेव के नाम पर जारी किया डाक टिकट 

धरने पर बैठी सांसद सावित्री बाई फुले

 

इस मौके पर बोलते हुए बहराइच सांसद सावित्री बाई फुले ने कहा कि भाजपा महाराजा सुहेलदेव जो कि पासी समाज से संबंध रखते थे के इतिहास को मिटाने पर लगी हुई है। इस मौके पर उन्होंने एनसीईआरटी की कक्षा 11 की एक किताब दिखाते हुए कहा कि इसमें स्पष्ट रुप से लिखा गया है कि महाराजा सुहेलदेव श्रावस्ती के राजा थे, जोकि बहराइच के आसपास का इलाका है।

यह भी पढ़ें: वाराणसी: सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी कार्यकर्ताओं ने पीएम मोदी के दौरे पर किया विरोध प्रदर्शन

उन्होने कहा भाजपा सरकार द्वारा जानबूझकर पासी समाज के इतिहास को मिटाने की साजिश रची जा रही है। इसको लेकर पासी समाज के लोगों में सरकार के खिलाफ भयानक आक्रोश है। वहीं 2019 का लोकसभा चुनाव किस पार्टी के टिकट पर लड़ेगी। इस पर सीधे तौर पर कुछ ना बोलते हुए सावित्रीबाई फुले ने कहा कि भाजपा के खिलाफ जो भी दल उन्हें समर्थन देगा। उसके साथ मिलकर चुनाव लड़ा जाएगा।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)