'रोंहिग्या मुस्लिमों के मामले में हस्तक्षेप करे सरकार'

डीएन संवाददाता

राजधानी लखनऊ के ऐशबाग स्थित इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ने म्यांमार के रोहिंग्या मुस्लिमों के मामलें में भारत सरकार से हस्तक्षेप करने की मांग उठाई है।


लखनऊ: म्यामांर में मुसलमानों पर हो रहे कत्ले आम के खिलाफ इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ने ऐशबाग स्थित ईदगाह पर विरोध प्रदर्शन किया l धर्मगुरू खालिद राशिद के नेतृत्व में हुए प्रदर्शन में सैकड़ो मुस्लिम संस्थानों ने मिलकर म्यांमार हुकूमत के खिलाफ जमकर नारेबाज़ी की। साथ ही वहां रोहिंग्या मुसलमानों पर हो रहें अत्याचार की कड़ी निंदा कीl 

डाइनामाइट न्यूज़ से बातचीत के दौरानसुन्नी धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने कहा कि म्यांमार में मुसलमानों पर हो रहे ज़ुल्मों की हम कड़ी निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि वहां के लोगों की स्थिति इतनी दयनीय हो गयी है कि लोग बांग्लादेश में कैम्प बना कर रह रहे हैं। वहीं उनके पास खाने-पीने के लिए कुछ भी नहीं है। 
साथ ही उन्होंने कहा कि यूनीसेफ की रिपोर्ट के मुताबिक करीब 2 लाख बच्चे मौत की कगार पर हैं। मौलाना खालिद ने कहा कि हम यही चाहते हैं कि हमारी हुकूमत यूनाइटेड नेशन से म्यांमार हुकूमत पर प्रेशर डलवा कर मुसलमानों के बाइज़्ज़त अपने मुल्क लौटाने का इंतेज़ाम करे और उनको सारी सुविधाएं दे।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार