मुजफ्फरपुर: पीएम मोदी का विपक्ष पर निशाना- जो बेल पर हैं उन्‍हें भी जेल भेजूंगा

डीएन ब्यूरो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुजफ्फरपुर की चुनावी सभा में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव और कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा- जो जेल में हैं, जो जेल के दरवाजे पर हैं, जो बेल पर हैं और जो बेल के लिए कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रहे हैं वह केंद्र में एक कमजोर सरकार चाहते हैं। जिससे उनके स्‍वार्थ सिद्ध हो पाएं।

मुजफ्फरपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
मुजफ्फरपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

मुजफ्फरपुर: लोकसभा चुनाव 2019 के लिए चार चरण का मतदान पूरा हो चुका है। जबकि अभी तीन चरण का मतदान बाकी है। पांचवे चरण के लिए देश में सभी दलों का चुनाव प्रचार जोर शोर से चल रहा है। आज बिहार के मुजफ्फरनगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशाल जनसभा को संबोधित किया। 

राहुल गांधी की नागरिकता पर उठे सवाल, गृह मंत्रालय ने नोटिस जारी कर मांगा जवाब

इस दौरान उन्‍होंने कांग्रेस समेत पूरे विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री ने कहा कि जो जेल में हैं, जो बेल पर हैं वह मजबूत सरकार को बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं। क्‍योंकि इसमें तो उनकी लूटखसोट बंद हो जाती है और पापों की सजा भी मिलने लगती है। जैसे हम मिशेल मामा को उठाकर लाए हैं, वैसे ही उनके बाकी चाचाओं को भी वापस आना होगा। 

बाँदा में अखिलेश यादव बोले-भाजपा सरकार से सिर्फ जनता ही नहीं, जानवर भी परेशान हैं

पीएम ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि पहले यह खुले घूमते थे अब यह बेल पर बाहर हैं। अब इन्‍हें जेल तक पहुंचाने की पूरी तैयारी है। उन्होंने राहुल गांधी पर तीखा हमला करते हुए कहा कि जिनके नसीब में विपक्ष का नेता बनना भी नहीं लिखा है, वो प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहे हैं।

कांग्रेस नेता शत्रुघ्‍न सिन्‍हा को भी याद आए जिन्‍ना, बोले- विकास और आजादी में उनका भी योगदान

आतंकवाद के मुद्दे पर कांग्रेस समेत पूरे विपक्ष को घेरा

पीएम ने इस दौरान आतंकवाद पर भी बात की। उन्होंने कहा कि एक समय था जब देश में मंदिर-मस्जिद-रेलवे स्टेशनों पर बम धमाके होते थे लेकिन कांग्रेस की सरकार कमजोर रुख अपनाती थी। हमारी सरकार ने सुरक्षा को सर्वोपरि रखा है और सीमाओं समेत देश के अंदर भी सुरक्षा को मजबूत किया है।

चार चरण मतदान के बाद विपक्षी चित्‍त

चार चरणों के चुनाव के बाद विपक्षी चारों खाने चित हो गए हैं, आने वाले तीन चरण विपक्ष की हार कितनी बड़ी होगी ये तय करेंगे। उन्होंने कहा कि ये लहर नहीं ललकार है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार