सुरबहार वादक अन्नपूर्णा देवी से जुड़ी वो 5 बातें जिसे जरूर जानना चाहेंगे आप

डीएन ब्यूरो

हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत की दिग्गज संगीतकार अन्नपूर्णा देवी का शनिवार तड़के मुंबई में निधन हो गया है। शास्त्रीय संगीत को अन्नपूर्णा देवी ने एक नया मुकाम दिया था। उनके जीवन से जुड़ी पांच बातों को पढ़ें, डाइनामाइट न्यूज़ की इस विशेष रिपोर्ट में

पिता अलाउद्दीन खान के साथ अन्नापूर्णा देवी (फाइल फोटो)
पिता अलाउद्दीन खान के साथ अन्नापूर्णा देवी (फाइल फोटो)

मुंबईः मशहूर सुरबहार वादक अन्नपूर्णा देवी का 91 वर्ष की आयु में मुंबई में निधन हो गया है। वह कई बीमारियों से जूझ रही थी और कई दिनों से अस्पताल में भर्ती थी। शनिवार को तड़के 3 बजकर 51 मिनट पर उन्होंने अंतिम सांस ली।

अन्नपूर्णा देवी से जुड़ी 5 बातें, जिसे जरूर जानना चाहेंगे आप     

 

अन्नपूर्णा देवी (फाइल फोटो)

 

यह भी पढ़ेंः नहीं रही दिग्गज क्लासिकल संगीतकार अन्नपूर्णा देवी, जानें कैसे हुआ निधन

 

1. मध्यप्रदेश के मैहर में 1927 में पैदा हुई अन्नपूर्णा देवी का मूल ना रोशनआरा खां था वह मुस्लिम परिवार में पैदा हुई थी। 

2. अन्नपूर्णा देवी हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत की प्रसिद्ध भारतीय सुरबहार वादक थीं। वह अलाउद्दीन खान की बेटी और शिष्या थीं।

3. उनकी शादी सितारवादक पंडित रविशंकर से हुई थी लेकिन उनकी शादी-शुदा जिंदगी कुछ खास नहीं चली और जल्द ही उनकी शादी टूट गई।  

 

अन्नपूर्णा देवी (फाइल फोटो)

 

 

यह भी पढ़ेंः नहीं रही राज कपूर की पत्नी कृष्णा राज कपूर, 87 साल की उम्र में निधन

4. 1982 में अन्नापूर्णा देवी ने अपने शिष्य रुशिकुमार पंड्या से शादी की। वहीं 2013 में उनके दूसरे पति पंड्या का भी निधन हो गया। तब से ही वह खुद को अकेला महसूस करती थी। 

5. 1977 में अन्नापूर्णा को पद्मभूषण से नवाजा गया था। वह हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत की भारतीय सुरबहार वादक थीं जिन्होंने शास्त्रीय संगीत को एक मुकाम पर पहुंचाया। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार