कानपुर में ढोंगी बाबा रूपी रावण का होगा दहन

डीएन संवाददाता

दशहरा के इस पवन अवसर पर कानपुर के बजरिया इलाके के 80 फीट रोड पर ढोंगी बाबा रूपी रावण का दहन किया जायेगा।

बाबा रूपी रावण का  पुतला
बाबा रूपी रावण का पुतला

कानपुर: पूरे देश में जहां विजयादशमी पर रावण को जलाने की परम्परा मानी जाती हैं। वहीं आज कानपुर में एक दस सिर वाला रावण बनाया गया जिसमें देश की जनता के साथ छल करने वाले ढोंगी बाबाओ के चेहरे देखने को मिलेंगे। वहीं क्षेत्रीय लोगों ने बाबा रूपी रावण के ऊपर “अंत हो अंत हो” का नारा देकर जमकर नारेबाजी भी की। इस दौरान पूरे शहर मे इस बाबा रूपी रावण के पुतले देखने के लिए भीड़ भी काफी उमड़ी। 

रावण के पुतले में 9 सिरों में ढोंगी बाबाओं को दर्शाया  

दशहरा के इस पवन अवसर पर बजरिया इलाके के 80 फ़ीट रोड पर बाबा रूपी दस सिर वाला रावण का पुतला बनाया गया हैं। वहीं खास बात इस रावण के पुतले की यह है कि इस रावण के पुतले में 9 सिर, देश की जनता को धोखा देने वाले ढोंगी बाबाओं की हैं। इस बाबारूपी रावण में राम रहीम, हनीप्रीत, रामपाल,निर्मल बाबा, स्वामी नित्यानन्द,आशाराम बापू, राधे मां, नारायण साईं और ओम बाबा जैसे लोगों शामिल हैं।

दस सिर वाले रावण के इस पुतले के 9 सिरों में पाखंडी बाबाओं को दर्शन का मुख्य कारण समाज को ऐसे ढोंगी बाबाओं पर विश्वास न करने का प्रतीक माना गया हैं। वहीं आज पूरे शहर में रावण का पुतला लोगों के केंद्र का आकर्षण बन हुआ हैं। इस दौरान 80 फ़ीट रोड पर रहने वाले अभिमन्यु ने अपनी टीम के साथ रावण के 9 सिरों वाले ढोंगी बाबाओं के पुतले को बनाया हैं। अभिमन्यु के मुताबिक दशहरा का पर्व बुराई पर अच्छाई का प्रतीक है और वहीं धर्म की आड़ में ढोंगी बाबा हिन्दू संगठन को ठगने और उन्हें गुमराह करने का काम कर रहे हैं। 

यह पाखंडी बाबा आज के रावण है अगर यह सही होते तो दुनिया को लगातार ठगने और गुमराह करने का काम नहीं करते। आज हमने बाबा रूपी रावण का पुतला बनाया है जिसे रात में दहन किया जाएगा। इस दहन के माध्यम यह सन्देश दिया जाएगा कि ऐसे ढोंगियों पर कभी भरोसा न करें।  
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार