कानपुर: शहीद कैप्टन आयुष की अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब

डीएन संवाददाता

कुपवाड़ा में शहीद कैप्टन आयुष यादव को अंतिम विदाई देने के लिए हज़ारों की भीड़ उमड़ी। सिद्धनाथ घाट में किया गया अंतिम संस्कार ।

 शहीद कैप्टन आयुष यादव को अंतिम विदाई देने के लिए हज़ारों की उमड़ी भीड़
शहीद कैप्टन आयुष यादव को अंतिम विदाई देने के लिए हज़ारों की उमड़ी भीड़

कानपुर: शहीद कैप्टन आयुष यादव की अंतिम यात्रा में सड़क पर लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल था। शहर व क्षेत्र के हर बुज़ुर्ग, युवा,महिलाएं सबकी आँखें नम थी। वहीं शहीद आयुष को पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई।

बता दे कि गुरूवार शाम जब आर्मी सेना द्वारा आयुष का पार्थिव शव उनके घर पहुंचा तो हज़ारों की संख्या में लोग जब तक सूरज चांद रहेगा आयुष तेरा नाम रहेगा, भारत माता की जय के नारे लगाते हुए नम आंखों से शहीद कैप्टन आयुष को श्रद्धांजलि देने उनके घर पहुंचे। माँ अपने बेटे के शरीर से लिपटकर रो-रो कर एक ही बात कह रही थी अब मेरा ख्याल कौन रखेगा कहाँ चले गए मेरे बेटे।

सेंट जोसफ स्कूल के स्टाफ और स्टूडेंटस् सभी ने अपने होनहार स्टूडेंट आयुष को श्रद्धांजलि दी

इस दौरान आयुष के स्कूल सेंट जोसफ का स्टाफ और स्टूडेंटस् सभी ने अपने होनहार स्टूडेंट को श्रद्धांजलि दी।

 

वही कैबिनेट मंत्री और महराजपुर विधायक सतीश महाना भी शहीद कैप्टन आयुष के निवास श्रद्धांजलि देने पहुंचे। महाना ने कहा कि ये परिवार व देश के लिए काफी बड़ी क्षति है। लोगों में गुस्सा लाज़मी है जो लोग सरकार से कठोर कार्यवाही की मांग कर रहे है उसको पूरा करने के लिए सरकार तैयार है। केंद्र सरकार इसपर कड़ी कार्यवाई करेगी ऐसी हमें उम्मीद है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार