DN Exclusive: आईपीएस डा. अजय पाल शर्मा के खिलाफ लगे भ्रष्टाचार के आरोपों को एसआईटी ने सही पाया, रिपोर्ट शासन के हवाले

डीएन संवाददाता

डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय जांच कमेटी ने नोएडा के पूर्व एसएसपी डा. अजय पाल शर्मा को भ्रष्टाचार मामले में दोषी पाया है और अपनी रिपोर्ट यूपी सरकार को सौंप दी है। डाइनामाइट न्यूज़ एक्सक्लूसिव:

आईपीएस डा. अजय पाल शर्मा (फाइल फोटो)
आईपीएस डा. अजय पाल शर्मा (फाइल फोटो)

लखनऊ: आने वाले दिन यूपी कैडर के 2011 बैच के आईपीएस डा. अजय पाल शर्मा पर भारी पड़ने वाले हैं। नोएडा में एसएसपी के पद पर तैनाती के दौरान इन पर भ्रष्टाचार के भयानक आरोप लगे। काफी दिनों तक यह मामला मीडिया में छाया रहा फिर योगी सरकार ने मामले की व्यापक जांच डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय कमेटी से कराने का फैसला किया।

अब खबर ये है कि इस कमेटी ने अपनी जांच रिपोर्ट शासन को सौंप दी है और इसमें अजय पाल को भ्रष्टाचार का दोषी पाया गया है। अब देखना होगा कि शासन इस रिपोर्ट पर अजय पाल के खिलाफ क्या एक्शन लेता है?

अजय पाल इस वक्त पीटीसी उन्नाव में तैनात हैं। जांच टीम ने इनकी संपत्तियों को भी खंगाला है। 

ये सारा मामला इस साल की शुरुआत में खुला जब नोएडा के एसएसपी वैभन कृष्ण ने एक साथ पांच आईपीएस अजय पाल शर्मा, हिमांशु कुमार, सुधीर कुमार सिंह, राजीव नारायण मिश्रा और गणेश साहा पर गंभीर आरोप लगा सनसनी मचा दी थी। हांलाकि बाद में वैभव कृष्ण की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल खड़े किये थे और इस मामले की जांच एडीजी स्तर के दूसरे अधिकारी को सौंपी गयी थी। 

 

 

 

 

 













संबंधित समाचार