जानें सावन में शिवलिंग पर दूध चढ़ाने का महत्व

डीएन संवाददाता

डाइनामाइट न्यूज़ से खास बातचीत में ज्योतिषाचार्य पं0 विद्याधर शास्त्री ने शिवलिंग पर दूध चढ़ाने का महत्व बताया। जानिये सावन के महीने में शिवलिंग पर दूछ चढ़ाने का क्या महत्व है।

शिवलिंग पर दूध चढ़ाते लोग
शिवलिंग पर दूध चढ़ाते लोग

तेहपुर: सोमवार से सावन का महीना शुरू हो गया है। पूरे सावन के महीने में भगवान शिव जी का अभिषेक किया जाता है। सावन के महीने में शिवलिंग पर दूध चढ़ाने का विशेष महत्व है लेकिन क्या आप जानते है कि लोग सावन के महीने में शिलविंग पर दूध क्यों चढ़ाते हैं।

यह भी पढ़ें: Dynamite News LIVE : सावन के दुर्लभ संयोग में इस तरह पूरी होंगी आपकी मनोकामनाएं

जानिये शिवलिंग पर दूध क्यों चढ़ाया जाता है

डाइनामाइट न्यूज़ से खास बातचीत में ज्योतिषाचार्य पं0 विद्याधर शास्त्री ने बताया कि हिन्दू धर्म में ऐसी मान्यता है कि शिवलिंग में दूध चढ़ाने से पारिवारिक सुख की प्राप्ति होती है। घर में सुख शान्ति और वैभव आता है। भगवान शिव तारक ब्रम्ह है जो सभी का कल्याण करने वाले है इसलिए शिवलिंग पर दूध से अभिषेक किया जाता है।

यह भी पढ़ें: बहुत दिनों बाद सावन में ऐसा संयोग, ऐसे होगी आपकी मनोकामना पूरी

आख़िर क्या कहता है विज्ञान?

विज्ञान की मानें तो बारिश के समय जानवर हरी घास पत्ते खाते है जिसमे बहुतायत में जीवाणुओं की मात्रा पाई जाती है। इसलिए बारिश के समय दूध प्रदूषित हो जाता है इसलिए इस ऋतु में दूध का प्रयोग वर्जित माना गया है। ऐसा माना जाता है कि हमारी मान्यताएं विज्ञान को समझ कर ही बनाई गईं थीं।

डाइनामाइट न्यूज़ अपने पाठको के लिए हर रोज भगवान भोलेनाथ और पवित्र सावन माह से जुड़ी धार्मिक, आध्यात्मिक कथा-कहानी, लेख और शिव मंदिरों से जुड़ी खबरों की श्रृंखला की शुरूआत कर रहा है। पूरे सावन माह तक आप भोले बाबा से जुड़ी खबरें हमारे विशेष कालम सावन स्पेशल में पढ़ सकते हैं। आप हमारी वेबसाइट भी देख सकते हैं DNHindi.com

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार