किसी भी राष्ट्र का आधार उसकी संस्कृति होती है: सीएम योगी

डीएन ब्यूरो

गोरखनाथ मंदिर में ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ और महंत अवेद्यनाथ की पुण्यतिथि पर आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम सभी को दिवंगत महंतों से प्रेरणा लेने की जरूरत है। उनकी प्रेरणा से ही आज समाज की विसंगतियों से लड़ने का प्रयास हो रहा है।

श्री गोरखनाथ मन्दिर में श्रीमद्भागवत शोभायात्रा में सीएम योगी व अन्य महंत
श्री गोरखनाथ मन्दिर में श्रीमद्भागवत शोभायात्रा में सीएम योगी व अन्य महंत

गोरखपुर: गोरखनाथ मंदिर में ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ और महंत अवेद्यनाथ की पुण्यतिथि पर आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम सभी को दिवंगत महंतों  से प्रेरणा की लेने की जरूरत। उनकी ही प्रेरणा से आज समाज की विसंगतियों से लड़ने का प्रयास हो रहा है। सीएम योगी ने कहा कि संत-महापुरुषो ने हमेशा राष्ट्रीय एकता-अखंडता को बनाए रखा। 

यह भी पढ़ें: सीएम योगी ने 16 खिलाड़ियों को खेल सम्मान से नवाजा

अखण्ड ज्योति के मौके पर सीएम योगी

महराजगंज बाढ़: सीएम योगी ने फरेंदा का किया निरीक्षण, बांटी राहत सामग्री

राष्ट्रहित को हमेशा सर्वोपरि
समारोह की संगोष्ठी के शुभारंभ पर अध्यक्षीय संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्र धर्म ही हम सब को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित करता है। हमारे यहां अलग पंथ और अलग संप्रदाय है लेकिन हमने इन चीजों से उठकर राष्ट्रहित को हमेशा सर्वोपरि माना है। उन्होंने कहा कि किसी भी राष्ट्र का आधार उसकी संस्कृति होती है। मजहब किसी राष्ट्र का आधार नहीं होता। 

साप्ताहिक पुण्यतिथि समारोह में सीएम योगी

महराजगंज का सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया दौरा, बाढ़ में मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख का मुआवजा

भारत की एकता हजारों वर्षों से बरकरार

सीएम योगी ने कहा कि भारत का आधार संस्कृति है, जिसकी वजह से इसकी एकता हजारों वर्षों से बरकरार है। उन्होंने पाकिस्तान पर भी निशाने साधते हुए कहा कि हमारा देश भारत 1947 मे नहीं बना, बल्कि यह इससे बहुत पहले से ही एक मजबूत सनातन राष्ट्र है।
योगी आदित्यनाथ ने भारत की सांस्कृतिक एकता को रामायण और महाभारत से जोड़ते हुए कहा कि भगवान श्रीराम ने अपने समय में उत्तर को दक्षिण से जोड़ने का कार्य किया और महाभारत काल में भी ऐसे कई उदाहरण मिलते हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार