आतंकवादी मसूद पर फ्रांस की बड़ी कार्रवाई, अपने देश में जब्त करेगा सभी संपत्तियां

डीएन ब्यूरो

संयुक्त राष्ट्र में चीन के वीटो से बचे जैश सरगना मसूद अजहर पर फ्रांस सख्त रुख अपनाने वाला है। वह अपने देश में जैश की सभी संपत्तियों को जब्त करेगा। जैश पर फ्रांस की यह सबसे बड़ी कार्रवाई होगी।

मसूद अजहर
मसूद अजहर

नई दिल्‍ली: बीते दिन संयुक्त राष्ट्र में जैश सरगना मसूद अजहर पर बैन लगाने के प्रस्ताव पर चीन ने वीटो कर दिया था। इसके बाद से फ्रांस ने जैश पर अब खुद ही कार्रवाई का मन बना लिया है। फ्रांस अब आतंकी संगठन की संपत्ति जब्त करने जा रहा है।

सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि आतंकी मसूद के संगठन जैश की फ्रांस में संपत्तियों को जब्‍त करेंगे। इसी के साथ फ्रांस ने स्‍पष्‍ट कर‍ दिया है वह अपने देश में जैश पर कार्रवाई के लिए किसी दूसरे देश का मुंह नहीं देखने वाला है। 

इससे पहले मसूद के पक्ष द्वारा सुरक्षा परिषद में वीटो की अमेरिका समेत कई देशों ने आलोचना की थी। अमेरिका ने चीन के वीटो पर नाराजगी जताते हुए कहा था कि यदि इस तरह से अड़ियल रुख से एशिया में शांति और स्थिरता को धक्‍का पहुंचेगा। 

यह भी पढ़ें: मसूद अजहर को 'ग्लोबल आतंकी' घोषित करने का प्रस्ताव रद्द, चौथी बार चीन बना रोड़ा

गौरतलब है कि एक दिन पहले ही चीन के वीटो ने पाकिस्‍ताान से संचा‍लित मसूद अजहर के संगठन को ग्लोबल आतंकी होने से बचा लिया था। इसके बाद से ही विश्‍व के कई देशों की आई प्रतिक्रियाओं ने यह साफ कर दिया था कि अब दुनिया जैश पर नरम रुख नहीं अख्तियार करने वाली है। फ्रांस का यह कदम उसी रास्‍ते को बढ़ाते हुए दिख रहा है।

आपको बता दें कि 2017 में भी चीन ने ऐसा ही किया था। बीते 10 साल में संयुक्त राष्ट्र में अजहर को वैश्‍व‍िक आतंकी घोषित कराने का यह चौथा प्रस्ताव था।

वहीं भारत में भी चीन के प्रति आमजनों में जबरदस्‍त रोष है। सोशल मीडिया पर चीन के सामान पर बैन लगाने की मांगें उठ रही है। साथ ही लोगों से चीनी सामानों को नहीं खरीदने की अपील की जा रही है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …