हार के लिए तेजस्वी यादव ने मानी अपनी गलती, पार्टी को आगे बढ़ाने के लिए अपनाएंगे नए तरीके

डीएन ब्यूरो

लोकसभा चुनाव में राजद की हार के लिए तेजस्वी ने अपनी गलती मानते हुए कई बदलावों के संकेत दिए हैं। वहीं दूसरी तरफ पार्टी का मानना है कि आगे बढ़ने के लिए अब नए तरीके आजमाने चाहिए, जिससे फिर से पहले जैसी हार का सामना ना करना पड़े।

तेजस्वी यादव(फाइल फोटो)
तेजस्वी यादव(फाइल फोटो)

पटना: लोकसभा चुनाव में राजद की हार के लिए तेजस्वी ने अपनी गलती मानते हुए कई बदलावों के संकेत दिए हैं। ऐसा माना जाता है कि लालू प्रसाद के आधार वोटरों की हिफाजत के साथ-साथ समर्थन के दायरे को व्यापक करने की तैयारी है। शायद इसीलिए संगठन में 60 फीसद हिस्सेदारी अति पिछड़ों और एससी-एसटी को देने का वादा किया गया है। 

यह भी पढ़ें: Bus Accident in Agra: यमुना एक्‍सप्रेस वे पर इस साल हो चुके हैं तीन बड़े हादसे, सरकार ने नहीं लिया कोई सबक

वहीं दूसरी तरफ हार के कारणों की समीक्षा से सहमत तेजस्वी ने इसमें अपनी गलती मानी है। इसके साथ ही उन्होनें कहा है कि सामाजिक न्याय के आंदोलन का फायदा सिर्फ कुछ ही जातियों तक सिमट कर रह गया है। लंबे समय बाद एक कार्यक्रम में शामिल हुए तेजस्वी यादव ने ये माना था कि उनसे कुछ गलतियां हुई हैं, जिसे ठीक करना जरूरी है।

यह भी पढ़ें: Bus Accident in Agra: आगरा बस हादसे में मृतकों व घायलों की पूरी सूची, देखिये किस-किस जिले के लोगों की हुई दुखद मौत

 

तेजस्वी प्रताप और तेज प्रताप यादव

राजद की थिंक टैक का कहना है कि सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों की भागीदारी बढ़ा देनी चाहिए। साथ ही अब पार्टी को आगे बढ़ने के लिए नए तरीके आजमाने चाहिए, जिसमें हर किसी को साथ लेकर चलना चाहिए। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …