इटावा: शरारती तत्वों ने भगवान बुद्ध की मूर्ति तोड़कर नहर में फेंकी.. ग्रामीणों में आक्रोश

डीएन संवाददाता

इटावा में लगी भगवान बुद्ध की प्रतिमा को शऱारती तत्वों ने शनिवार रात को तोड़कर खंडित कर दिया, जिसके बाद में प्रतिमा को नहर में भी फेंक दिया। जिसके बाद में ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। डाइनामाइट न्यूज की रिपोर्ट..

नहर में तोड़कर फेंकी गई भगवान बुद्ध की प्रतिमा
नहर में तोड़कर फेंकी गई भगवान बुद्ध की प्रतिमा

इटावा: थाना इकदिल क्षेत्र में पड़ने वाले भवानीपुरा गांव जमीनी विवाद को लेकर पूर्व प्रधान अमर सिंह दोहरे ने देर रात करीब 1 बजे भगवान बुद्ध की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करके नहर में फेंक दिया। जिसके बाद में मौके पर पहुंची पुलिस पूर्व प्रधान अमर सिंह दोहरे से पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़ें: सराहनीय पहल: पुलिस ने गरीब घरों के बच्चों को दिखाया नुमाइश.. खिल उठे मासूमों के चेहरे 

नहर में पड़ी प्रतिमा

पुलिस पूछताछ में पूर्व प्रधान अमर सिंह ने बताया कि उसकी भाभी रामसखी को सरकारी जमीन का पट्टा सन 1995 में हुआ था। उसी जमीन पर कब्जा करने या विवादित करने की नियत से उसी गाँव के कमलेश दोहरे और शिवनारायण दोहरे ने देर रात कहीं से भगवान बुद्ध की टूटी मूर्ति लाकर उसके पट्टे की जमीन पर लाकर रख दी। अपनी जमीन पर भगवान बुद्ध की टूटी मूर्ति देख अमर सिंह ने घबड़ाकर रात में ही उस मूर्ति को हाथठेला पर रख मूर्ति को अपने गाँव से दूर कांकरपुर गाँव मे लाकर नहर में फेंक दिया।

यह भी पढ़ें: UP: घर में सो रही रही दो सगी बहनो की गोली मारकर हत्या.. जानिए क्या है पूरा मामला 

पूर्व प्रधान अमर सिंह दोहरे के बताए अनुसार पुलिस दूसरे पक्ष कमलेश और शिवनारायण दोहरे की तलाश में जुट गई है। फिलहाल पुलिस अभी पूरे मामले की जांच कर रही है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …